केजरीवाल की माफी के बाद AAP में मचा घमासान, भगवंत मान ने दिया इस्तीफा

अरविंद केजरीवाल ने मजीठिया से माफी क्या मांगी, आम आदमी पार्टी में मच गया घमासान और अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे गए भगवंत मान।
केजरीवाल की माफी के बाद AAP में मचा घमासान, भगवंत मान ने दिया इस्तीफाआज सवेरे अपने फेसबुक पेज पर भगवंत मान ने एक पोस्ट डालते हुए पंजाब आप के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने का ऐलान किया। उन्होंने लिखा कि मैं पंजाब आप के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा है, लेकिन एक आम आदमी होने के नाते पंजाब में भ्रष्टाचार और ड्रग माफिया के खिलाफ मेरी लड़ाई जारी रहेगी।

Loading...

वहीं, भगवंत मान के इस कदम से पंजाब की राजनीति में खलबली मच गई है। आम आदमी पार्टी में भी हड़कंप मचा हुआ है। हर कोई अचानक हुए इस इस्तीफे को लेकर स्तब्ध है। बताया जा रहा है कि भगवंत मान मजीठिया से माफी मांगे जाने से नाराज हैं। इसी के चलते उन्होंने पद छोड़ दिया।

बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने अमृतसर की अदालत में वीरवार को पूर्व अकाली मंत्री बिक्रम मजीठिया पर नशा कारोबार को लेकर लगाए आरोपों के संबंध में माफीनामा दिया। इसके बाद उनकी पार्टी में बगावती सुर उठने लगे। आप विधायक व नेता प्रतिपक्ष सुखपाल खैरा और खरड़ से एमएलए कंवर संधू ने इसे गलत बताते हुए विरोध जताया।

केजरीवाल के माफीनामे की सूचना मिलने पर खरड़ से आप विधायक और पार्टी की मेनिफेस्टो कमेटी के चेयरमैन कंवर संधू ने ट्वीट करके कहा कि नशों के केस में चल रहे मानहानि मामले में केजरीवाल की मजीठिया से माफी ने पंजाब के लोगों का सिर नीचा कर दिया है। खासतौर पर पंजाब के युवाओं को इससे बहुत निराशा होगी। संधू ने लिखा है कि पंजाब के लिए उनकी लड़ाई जारी रहेगी।

इसके बाद भुलत्थ से आप विधायक और नेता प्रतिपक्ष सुखपाल खैरा ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि हम लोग अरविंद केजरीवाल की माफी से सकते में हैं। हमें यह कहने में कोई संकोच नहीं है कि केजरीवाल जैसे बड़े कद के नेता ने इस तरह समर्पण से पहले हम लोगों के साथ कोई विचार-विमर्श नहीं किया।

इसके पश्चात आप में साइड लाइन किए गए कुमार विश्वास ने दोनों ही ट्वीट को लाइक करने के बाद ट्वीट किया-
एकता बांटने में माहिर हैं
खुद की जड़ काटने में माहिर हैं
हम क्या उस शख्स पर थूकें
जो थूक कर चाटने में माहिर है।
माफीनामे पर बोले थे मजीठिया- ऐतिहासिक पल एक सीएम ने गलती मानी

केजरीवाल द्वारा अमृतसर की अदालत में माफीनामा देने के बाद चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत में मजीठिया ने कहा कि सच की जीत हुई है। इससे साफ हो गया है कि झूठे आरोप कभी कामयाब नहीं होते। यह ऐतिहासिक पल है जब एक सिटिंग सीएम ने अदालत में माफीनामा दिया है।

उन्होंने मुझे, मेरे परिजनों, समर्थकों को पहुंची ठेस के लिए खेद जताया है। मजीठिया ने कहा कि केजरीवाल ने बड़ा साहस दिखाते हुए अपनी गलती मानी है। वह इसके लिए उनका धन्यवाद करते हैं। मजीठिया ने कहा कि वह पहले दिन से कह रहे थे कि या तो केजरीवाल माफी मांगेंगे या जेल जाएंगे।

अब जब केजरीवाल और आशीष खेतान ने माफी मांग ली है तो उन्होंने अपने वकील से मानहानि का केस वापस लेने को कहा है। यह केस मई 2016 में अमृतसर अदालत में दायर किया गया था। मजीठिया ने कहा कि इस विवाद से उनकी मां और पत्नी को काफी परेशानी उठानी पड़ी है।

Loading...
loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com