कमल हासन ने किया पार्टी के नाम का ऐलान, पार्टी में शामिल हुई ये एक्ट्रेस

सुपर स्टार कमल हासन ने अपनी राजनीतिक पारी का आगाज कर दिया है। उन्होंने अपनी पार्टी का नाम मक्कल नीधि मय्यम रखा है। कमल हासन की पार्टी लॉन्च के मौके पर कमल हासन के साथ मंच पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद थे।

बता दें कि दक्षिण भारत के मशहूर एक्टर कमल हासन नई पार्टी का ऐलान करने से पहले दिग्गज एक्टर पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम के घर गए थे और उनके परिवार से बात की। हासन ने कलाम के 90 वर्षीय भाई मोहम्मद मुथुइमीरा लेब्बाई मारिक्कायार से बातचीत की थी। इस दौरान पूर्व राष्ट्रपति के अन्य रिश्तेदार उनके आस पास ही मौजूद थे। 

हासन बुधवार को एक स्कूल का भी दौरा करने वाले थे, लेकिन प्रशासन से अनुमति नहीं मिलने के कारण उन्होंने अपना यह दौरा रद्द कर दिया।

PNB घोटाला: बैंक ने 18 हजार कर्मचारियों का किया तबादला

मदुरै में एक जनसभा के मौके पर हासन अपनी पार्टी के नाम की घोषणा की। इस मौके पर उनके साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद रहे। 

वहीं द्रविड़ मुनेत्र कड़गम(द्रमुक) ने हासन के राजनीति में उतरने पर निशाना साधा है। द्रमुक ने हासन पर निशाना साधते हुए कहा कि कागज के वे फूल जिनमें खुशबू नहीं होती, वे केवल एक मौसम में खिलते हैं, लेकिन जल्द ही मुरझा जाते हैं।

कमल हासन ने अपने गृह नगर में कहा कि, “मैं 45 साल बाद यहां आया हूं। थोड़ा बदल गया है, लेकिन लोग नहीं बदले हैं। मैं आप सभी का बेटा हूं। आप सभी ने मुझे अब तक एक फिल्म स्टार के रूप में देखा है, अब से मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि मैं सिनेमा स्टार नहीं हूं। मैं आप सभी के घर का दीपक हूं। कृपया मुझे बचाओ और मुझे रोके रखो।”

वरिष्ठ कांग्रेस नेता एम वीरप्पा मोइली ने भी हासन पर निशाना साधते हुए कहा कि मुझे नहीं लगता है कि तमिलनाडु में नई क्षेत्रीय पार्टियों के लिए कोई जगह है। वहीं इंडियन क्रिकेट टीम के ऑफ स्पिनर अश्विन रविचंद्रन ने ट्विट किया है कि, एक और दिन जहां तमिलनाडु से एक और सुपरस्टार अभिनेता अपनी राजनीतिक पार्टी की शुरुआत कर रहा है। क्या राजनीतिक परिदृश्य बड़े पैमाने पर बदलाव के लिए निर्धारित है?

कमल हासन ने‘द्रविड़’ होने के नाते दक्षिणी राज्यों में एकता पर बात करते हुए कहा था ‘यह (द्रविड़ होना) हमारी पहचान है और यह दक्षिणी राज्यों को केंद्र के साथ शक्ति देगा।’ उन्होंने राजनीति को फिल्मों से जोड़ते हुए कहा कि मुझे कोई भी फर्क नहीं दिख रहा है, दोनों में ही लोगों का समर्थन जरूरी है, लेकिन राजनीति में जिम्मेदारी बहुत बड़ी है। मेरे पास जो धन है वह जनता का पैसा है।

कमल हासन ने आगे कहा कि उनकी यात्रा कलाम और गांधी से प्रेरित हैं। उन्होंने ये भी बताया कि पिछली रात उनके पास आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडु का फोन आया था और उन्होंने कहा कि हमेशा जनता को राजनीति से ऊपर रखना।

रामेश्वरम में मछुआरा समुदाय से बात करने के बाद उन्होंने मीडिया से मुलाकात की। यहां उन्होंने कहा कि उन्होंने अपनी पार्टी की घोषणा की तारीख 21 फरवरी को इसलिए रखी क्योंकि आज अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस है। रामेश्वरम में गणेश महल के मछुआरों से कमल हासन ने कहा कि कई राजनीतिक दल कई तरह के वादे करते हैं और जब वो वादे पूरे नहीं होते तो कई तरह के बहाने बनाने लगते हैं।

प्रशांत भूषण ने कमल हासन के राजनीति में प्रवेश पर उन्हें बधाई देते हुए ट्वीट कर कहा है कि वो समझते हैं कि कमल हासन ने पब्लिक लाईफ को बेहतर करने के लिए ये कदम उठाया है लेकिन उन्हें एक्सपर्ट की सलाह की जरूरत है।

एक दिन पहले अभिनेता सीमान ने चेन्नई में कमल हासन के घर पर उनसे मुलाकात की। सीमान ने रजनीकांत के तमिल मूल का नहीं होने पर उनका जोरदार विरोध किया था।

 

You may also like

‘नमोस्तुते माँ गोमती’ के जयघोष से गूंजा मनकामेश्वर उपवन घाट

विश्वकल्याण कामना के साथ की गई आदि माँ