अभी-अभी: राज्यसभा नामांकन करने पहुंचीं सपा उम्मीदवार जया बच्चन

समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार जया बच्चन ने शुक्रवार को राज्यसभा के लिए नामांकन दाखिल किया. इस दौरान उनके साथ सहारा समूह के चेयरमैन सुब्रत रॉय, सपा सांसद डिंपल यादव और सपा विधायक संजय गर्ग व पार्टी के अन्य नेता भी उपस्थित थे.

समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार जया बच्चन ने शुक्रवार को राज्यसभा के लिए नामांकन दाखिल किया. इस दौरान उनके साथ सहारा समूह के चेयरमैन सुब्रत रॉय, सपा सांसद डिंपल यादव और सपा विधायक संजय गर्ग व पार्टी के अन्य नेता भी उपस्थित थे.  69 वर्षीय जया बच्चन ने उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए विधानसभा में अपना नामांकान दाखिल किया. वह राज्यसभा में 2004 से सपा का प्रतिनिधित्व कर रहीं थीं. उनका कार्याकाल अप्रैल में समाप्त हो रहा है.  जया बच्चन ने शुक्रवार दोपहर विधानभवन के सेंट्रल हॉल में पहुंचकर नामांकन दाखिल किया, लेकिन इस दौरान अखिलेश यादव की गैर मौजूदगी लोगों को खटकती रही.  वहीं नामांकन भरने के बाद जब उनसे नरेश अग्रवाल और किरनमय नंदा जैसे वरिष्ठ नेताओं को टिकट न दिए जाने का सवाल पूछा गया तो जया बेबाकी से पूछ बैठीं कि मैं सीनियर नहीं हूं क्या?  उल्लेखनीय है कि समाजवादी पार्टी के छह राज्य सभा सांसद रिटायर हो रहे हैं. किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी के नाम इस लिस्ट में हैं. सपा के पास सिर्फ 47 वोट हैं, अखिलेश यादव सिर्फ एक नेता को ही संसद भेज सकते है. बाकी के अतिरिक्त वोट को गठबंधन के तहत बीएसपी उम्मीदवार को देगी.  समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल, किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव,  मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी को राज्यसभा का टिकट नहीं दिया है. सपा ने अपने छह राज्यसभा सदस्यों में सिर्फ जया बच्चन को भेजने का फैसला किया है.69 वर्षीय जया बच्चन ने उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए विधानसभा में अपना नामांकान दाखिल किया. वह राज्यसभा में 2004 से सपा का प्रतिनिधित्व कर रहीं थीं. उनका कार्याकाल अप्रैल में समाप्त हो रहा है.

जया बच्चन ने शुक्रवार दोपहर विधानभवन के सेंट्रल हॉल में पहुंचकर नामांकन दाखिल किया, लेकिन इस दौरान अखिलेश यादव की गैर मौजूदगी लोगों को खटकती रही.

वहीं नामांकन भरने के बाद जब उनसे नरेश अग्रवाल और किरनमय नंदा जैसे वरिष्ठ नेताओं को टिकट न दिए जाने का सवाल पूछा गया तो जया बेबाकी से पूछ बैठीं कि मैं सीनियर नहीं हूं क्या?

उल्लेखनीय है कि समाजवादी पार्टी के छह राज्य सभा सांसद रिटायर हो रहे हैं. किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव, नरेश अग्रवाल, जया बच्चन, मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी के नाम इस लिस्ट में हैं. सपा के पास सिर्फ 47 वोट हैं, अखिलेश यादव सिर्फ एक नेता को ही संसद भेज सकते है. बाकी के अतिरिक्त वोट को गठबंधन के तहत बीएसपी उम्मीदवार को देगी.

समाजवादी पार्टी ने नरेश अग्रवाल, किरणमय नंदा, दर्शन सिंह यादव,  मुनव्वर सलीम और आलोक तिवारी को राज्यसभा का टिकट नहीं दिया है. सपा ने अपने छह राज्यसभा सदस्यों में सिर्फ जया बच्चन को भेजने का फैसला किया है.

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच