अभी-अभी: फ्रेंच हैकर ने किया बड़ा खुलासा- यूजर्स की जानकारी सिंगापुर भेज रहा है कांग्रेस का ऐप

फेसबुक से डेटा लीक होने पर हुए बवाल के बाद अब इस रैकेट की आंच देश के दोनों मुख्य राष्ट्रीय दलों के दर तक पहुंच गई है. ये खुलासा होने के बाद कांग्रेस और बीजेपी अभी कैंब्रिज एनालिटिका से किसके संबंध हैं, इसी बहस में व्यस्त थी, ऐसे में इस खेल में अब एक नया प्लेयर आ गया है, जिसने 24 घंटे के अंदर ही बाजी का रुख पलट कर रख दिया है.

Just recently: French hacker did a big disclosure - sending the information of users to Singaporeएलियट एल्डरसन के नाम से एक ट्विटर अकाउंट है, जिसका हैंडल @fs0c131y है. बीते शनिवार (24 मार्च) को इस अकाउंट से नरेंद्र मोदी ऐप के जरिए डेटा लीक किए जाने का दावा किया गया तो ये खबर मीडिया में छा गई. रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस दावे के आधार पर बनी खबर अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की और नरेंद्र मोदी पर अमेरिका में अपने दोस्तों के साथ जनता की निजी जानकारी साझा करने का आरोप लगाया. राहुल के इस आरोप पर न सिर्फ बीजेपी ने सफाई दी. बल्कि प्रधानमंत्री कार्यालय को भी अपना बचाव करना पड़ा.

 

आज निशाने पर कांग्रेस

रविवार को एलियट एल्डरसन के ट्वीट के आधार पर कांग्रेस ने बीजेपी को घेरा. लेकिन आज इसी ट्विटर अकाउंट से कांग्रेस को टारगेट किया गया. 25 मार्च की रात 11.28 बजे ही एल्डरसन ने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस के ऐप से जुड़ी कुछ दिलचस्प जानकारी मुझे मिली है, डिटेल्स कल पब्लिश करूंगा.

बीती रात किए गए इस ट्वीट के बाद आज सुबह एल्डरसन ने एक और ट्वीट किया. जिसमें लिखा गया, ‘जब आप कांग्रेस के एंड्रॉयड ऐप पर सदस्यता के लिए आवेदन करते हैं तो आपकी निजी जानकारी membership.inc.in पर चली जाती है.

अगले ट्वीट में एल्डरसन ने दावा किया कि जो निजी जानकारी ऐप के जरिए एनकोड की जाती हैं, वो सुरक्षित नहीं हैं. इसके बाद एक और ट्वीट किया गया. जिसमें membership.inc.in का आईपी एड्रेस बताया गया. एल्डरसन ने दावा किया है कि membership.inc.in का आईपी एड्रेस 52.77.237.47. है और यह सर्वर सिंगापुर में स्थित है. ट्वीट में तंज करते हुए लिखा गया, ‘जैसा कि आप एक भारतीय राजनीतिक दल हैं, आपके सर्वर का भारत में होना एक अच्छा आइडिया है.’

एल्डरसन के ट्वीट में जब ये दावे किए और कांग्रेस को निशाने पर लिया तो कांग्रेस ने इस पर सफाई दी. कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख दिव्या स्पंदना राम्या ने लिखा, ‘हम ऐप के जरिए सदस्यता अभियान नहीं चलाते हैं, ऐसा हमारी वेबसाइट http://www.inc.in के जरिए किया जाता है, जिसका सर्वर मुंबई में स्थित है.’

कांग्रेस ने जरूर एलियट के आरोपों पर सफाई दी है. लेकिन दूसरी तरफ बीजेपी ने उसे हथियार बनाया है. बीजेपी के आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने सर्वर की जानकारी से आगे बढ़कर कांग्रेस वेबसाइट पर निजी जानकारी साझा करने और उसकी सुरक्षा को लेकर जो जानकारी दिखी है, उस पर भी सवाल उठाए हैं. अमित मालवीय ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी सिंगापुर में जानकारी भेज रहे हैं.

 

यानी जिस ट्वीट के आधार पर राहुल गांधी ने रविवार को नरेंद्र मोदी को घेरने की कोशिश की थी. वही, उसने अब कांग्रेस के लिए संकट खड़ा कर दिया है. सच्चाई ये भी है कि डेटा लीक के इस पूरे मैच में ये तीसरा प्लेयर दोनों ही पार्टियों के लिए गले की फांस बन गया है.

You may also like

आधार को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से खुश है सरकार, कांग्रेस पर साधा निशाना…

आधार पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सरकार