अभी-अभी: आधार कार्ड को लेकर फिर सामने आई बड़ी खबर, नजरअंदाज करेंगे तो होगा नुकसान

- in Mainslide, कारोबार

आधार कार्ड को लेकर एक और नई जानकारी सामने आई है। अगर इसे नजरअंदाज किया तो पछताना पड़ सकता है।

आपने भले ही अपना बैंक खाता आधार आईडी देकर खुलवाया हो, लेकिन 31 दिसंबर से पहले उसमें आधार कार्ड नंबर लिंक कराना जरूरी है। बैंकों ने इसके लिए पूरी तैयारी की हुई है। एक निश्चित समय तक खाता आधार से लिंक न होने पर बंद भी हो सकता है। दूसरी ओर खाते को आधार से जोड़ने के लिए कई बैंकों की वेबसाइट पर भी सुविधा दी जा रही है।

 

अभी-अभी: आधार कार्ड को लेकर फिर सामने आई बड़ी खबर, नजरअंदाज करेंगे तो होगा नुकसानबैंक खाते को आधार से लिंक कराना जरूरी है। बैंक अधिकारियों के मुताबिक, जिन ग्राहकों ने अपने खाते आधार कार्ड की आईडी देकर खुलवाए होंगे, उन्हें भी 31 दिसंबर 2017 तक हर हाल में अपना खाता आधार कार्ड के नंबर से लिंक कराना होगा। इसके लिए बैंक कई विकल्प दे रहे हैं। पहले विकल्प के तौर पर तो आप नजदीकी बैंक शाखा में जाकर अपने आधार कार्ड की फोटोकॉपी देकर खाते को आधार से जोड़ सकते हैं।
दूसरे विकल्प के तौर पर आप एसएमएस सेवा का लाभ ले सकते हैं। तीसरे विकल्प के तौर पर आप अपने बैंक की वेबसाइट पर लॉगइन करके अपना आधार नंबर अपडेट करा सकते हैं। चौथे विकल्प के तौर पर आप अपने एटीएम का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
इसके लिए आप ‘आधार नंबर खाता संख्या’ लिखकर अपने बैंक को एसएमएस कर सकते हैं। एसएमएस भेजने के लिए बैंक एक विशेष कोड देते हैं। इस कोड की जानकारी आप अपने बैंक से ले सकते हैं। इसके बाद बैंक के निर्देशों के तहत आप एसएमएस भेजें। बैंक आपके द्वारा दी गई जानकारी की जांच करेगा और आपको एसएमएस भेजेगा। इससे पता चल जाएगा कि आपका खाता आधार से लिंक हो गया है।

वहीं, अपने बैंक की वेबसाइट पर जाएं। यहां दिए गए ‘लिंक आधार या आधार जोड़ने’ के विकल्प पर क्लिक करें। इंटरनेट बैंकिंग चलाते हैं तो पहले लॉगइन करें। अपना आधार नंबर भरें और सबमिट का बटन दबा दें। आधार से लिंक होते ही आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एसएमएस आ जाएगा या ईमेल भी आ जाएगा।

इसके साथ ही एटीएम कार्ड मशीन में लगाएं और अपना पिन डालें। इसके बाद सर्विस रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करें। इसके बाद आधार रजिस्ट्रेशन का विकल्प आएगा, इस पर क्लिक करें। अब चालू खाता या बचत खाता में से किसी एक पर क्लिक करें। इसके बाद आधार नंबर लिखें। बैंकों के एटीएम के हिसाब से विकल्प का नाम अलग-अलग हो सकता है।

 
=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उद्धव का चप्पल वार, योगी का पलटवार

शिवसेना और बीजेपी के बीच जुबानी जंग सारी