अभी-अभी: काठमांडू में बांग्लादेश का विमान क्रैश, 67 यात्री में से, अब तक 27 लोगों की मौत

बांग्लादेश का एक यात्री विमान नेपाल की राजधानी काठमांडू स्थित त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर क्रैश हो गया. मिली जानकारी के अनुसार अब तक 17 लोगों को बचाया जा सका है, जबकि 27 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया है. बताया जा रहा है कि इस  विमान हादसे में जान गंवाने वाले ज्यादातर बांग्लादेशी नागरिक हैं.

अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक विमान में 37 पुरुष, 27 महिलाएं और दो बच्चे समेत कुल 67 लोग सवार थे. फिलहाल विमान के हादसे होने की वजह साफ नहीं हो पाई है. हालांकि अगर न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की मानें तो काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतरते वक्त विमान अपना संतुलन खो बैठा और हादसे का शिकार हो गया.

हादसे की सामने आई तस्वीरों में विमान आग में जलता नजर आ रहा है. दुर्घटनाग्रस्त विमान बांग्लादेश की एयरलाइन यूएस-बांग्ला का था. घायलों को तुरंत अस्पताल भेजा गया है और दुर्घटनास्थल पर बचाव कार्य जारी है. इस हादसे के बाद काठमांडू के त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट को जाने वाले सभी विमानों को लखनऊ और कोलकाता डायवर्ट कर दिया गया है.

– अधिकारियों के मुताबिक इस विमान हादसे में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है.

– नेपाल सिविल एविएशन अथॉरिटी के डायरेक्टर जनरल (Caan) संजीव गौतम ने बताया कि विमान को रनवे के दक्षिण की ओर से लैंडिंग की इजाजत दी गई थी, लेकिन यह विमान उत्तर की ओर से लैंडिंग किया.

– संजीव गौतम ने बताया कि रनवे पर लैंडिंग के दौरान विमान बेकाबू हो गया और हादसे का शिकार हो गया.

– विमान हादसे में को-पायलट की मौत हो गयी है.

एयरलाइन यूएस-बांग्ला एक बांग्लादेशी निजी एयरलाइन है, जिसकी स्थापना 2013 में अमेरिका और बांग्लादेश के बीच ज्वाइंट वेंचर के तहत की गई थी. यह एयरलाइन ढाका से नेपाल के रूट पर था. हादसे के बाद काठमांडू एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है. हादसा उस वक्त हुआ जिस दौरान विमान त्रिभुवन एयरपोर्ट पर लैंड कर रहा था. एयरपोर्ट के प्रवक्ता के अनुसार, विमान में करीब 67 यात्री मौजूद थे. विमान क्रैश की खबर के बाद सोशल मीडिया पर कई तरह के वीडियो और फोटोज सामने आने लगे हैं.

इस हादसे से एक दिन पहले संयुक्त अरब अमीरात से इस्तांबुल जा रहा तुर्की का एक निजी जेट विमान ईरान के पर्वतीय क्षेत्र में दुर्घटनाग्रस्त हो गया. उसमें 11 लोग सवार थे. हादसे में सभी 11 लोगों की मौत हो गई. ईरानी टेलीविजन ने देश के आपदा प्रबंधन संगठन के प्रवक्ता मुज्तबा खालिदी के हवाले से खबर दी कि शहर ए-कोर्ड में विमान एक पहाड़ से टकरा गया और उसमें आग की लपटें उठने लगीं.

You may also like

लोअर पीसीएस-2015 के चयनितों को चार माह बाद भी नियुक्ति का इंतजार – राघवेन्द्र प्रताप सिंह

लखनऊ। एक ओर जहाँ सूबे की योगी आदित्यनाथ