चीन सीमा को जोड़ने वाला जोशीमठ-मलारी हाईवे खुला, लेकिन बदरीनाथ राजमार्ग अभी भी बंद

- in उत्तराखंड

चीन सीमा को जोड़ने वाला जोशीमठ-मलारी हाईवे मंगलवार देर रात करीब साढ़े 11 बजे वाहनों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया। चौथे दिन सेना और आईटीबीपी के वाहनों की आवाजाही हुई। रात को ही सीमा क्षेत्र के लिए सेना के वाहन रवाना हुए।

वहीं बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ में रात को भारी बारिश के दौरान बंद हो गया। फिलहाल बदरीनाथ यात्रा रुकी हुई है। पांडुकेश्वर में बदरीनाथ धाम जा रहे 255 यात्री मार्ग खुलने का इंतजार कर रहे हैं। जबकि 34 यात्री पैदल और फिर स्थानीय वाहन से बदरीनाथ धाम के लिए रवाना हो गए हैं। हेमकुंड की यात्रा सुचारु है। गोविंदघाट से सुबह 10 बजे तक 170  यात्री घांघरिया के लिए रवाना हो गए थे।

आज भी होगी हल्की बारिश
प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में बुधवार को आज भी हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के लगभग सभी क्षेत्रों में बादल छाए रहने का अनुमान है। वहीं, पूरे दिन में दो से तीन दौर की हल्की वर्षा भी हो सकती है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अगले कुछ दिन में मौसम में बदलाव हो सकता है। 

अगले पांच दिन भी नहीं मिलेगी बारिश से राहत
आपदा प्रबंधन विभाग ने मौसम का जो पूर्वानुमान जारी किया है। जिसके मुताबिक अगले पांच दिनों तक बारिश से राहत मिलने के आसार दिखाई दे रहे हैं। आपातकालीन परिचालन केंद्र में बतौर ड्यूटी अफसर तैनात संयुक्त सचिव (लोनिवि) एसएस टोलिया द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार आठ सितंबर तक कुछ स्थानों पर गरज के साथ बारिश हो सकती है। अगले 24 घंटों में कुमाऊं मंडल के इलाकों में भारी बारिश का अनुमान है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बड़ा हादसा: हाईटेंशन की चपेट में आकर श्रमिकों से भरी बस बनी आग का गोला, राहत-बचाव कार्य जारी

उत्तराखंड के रुड़की में मंगलवार सुबह एक बड़ा