शेयर बाजार की दौड़ में जापान चीन को पछाड़ बन सकता है दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा शेयर बाजार

- in कारोबार

नई दिल्ली। चीन का शेयर बाजार दुनिया का दूसरा बड़ा इक्विटी मार्केट है। चीन ने यह तमगा पिछले चार वर्षों से बरकरार रखा हुआ है। हालांकि यह अब दूसरे से फिसलकर तीसरे स्थान पर आ सकता है। यह जानकारी ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में सामने आई है।शेयर बाजार की दौड़ में जापान चीन को पछाड़ बन सकता है दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा शेयर बाजार

जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को चीन ने शेयर बाजार में करीब 406 अरब डॉलर डूब गये। जनवरी में उच्चतम स्तर छूने के बाद से अबतक चीन के शेयर्स का पूंजीकरण 1.6 ट्रिलियन तक घट चुका है। अगर मंगलवार की तरह एक दिन और गिरावट हुई तो चीन तीसरे पर और जापान दूसरे नंबर पर आ जाएगा। इससे जापान की मुद्रा को फायदा मिलेगा। आपको बता दें कि चीन ने वर्ष 2014 के अंत में जापान को पछाड़ दूसरे स्थान पर आ गया था। तब से यह दुनिया का दूसरा सबसे मूल्यवान शेयर बाजार बना हुआ है।

अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते ट्रेड वॉर की आशंकाओं के बीच यह गिरावट देखी जा रही है। लेकिन आपको बता दें कि रिपोर्ट के मुताबिक चीन के शेयर बाजार में बुधवार के सत्र में सरकारी प्रयासों की मदद से सुधार देखा गया। दुनिया का सबसे बड़ा शेयर बाजार अमेरिका का है। इसका मूल्य करीब 31 ट्रिलियन डॉलर का है। दिलचस्प बात यह है कि अमेरिका का शेयर बाजार चीन और जापान के संयुक्त शेयर्स के मूल्य का भी दोगुना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ओप्पो का नया स्मार्टफोन Oppo F9 लॉच

नई दिल्ली। सेल्फी एक्सपर्ट ओप्पो ने अपना नया