जगदंबिका पाल ने कहा- पाकिस्तान जाने पर सिद्धू और कांग्रेस को मांगनी चाहिए देश से माफी

- in दिल्ली, राजनीति

नई दिल्ली: इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान पहुंचे पूर्व क्रिकेटर और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू अब विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने सिद्धू के पाकिस्तान जाने को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा- सिद्धू और कांग्रेस को देश से माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस को उन्हें पाकिस्तान जाने से रोकना चाहिए था। बाजवा से गले लगना पूरे देश का अपमान है। कांग्रेस को यह भी बताना चाहिए कि सिद्धू ने पाकिस्तान जाने के लिए पार्टी की मंजूरी ली थी या नहीं?

आपको बतां दे कि इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में पाकिस्तान पहुंचे सिद्धू का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें वह इस्लामाबाद में आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा से गर्मजोशी के साथ गले मिले। यही नहीं, समारोह के दौरान सिद्धू को पाक अधिकृत कश्मीर के राष्ट्रपति मसूद खान के पास भी बिठाया गया था। बता दें कि सिद्धू के पाकिस्तान जाने को लेकर बीजेपी पहले से ही उन पर हमलावर है।      

वहीं इमरान खान ने आज पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली। क्रिकेट छोड़कर राजनीति की दुनिया में आने वाले खान पिछले 22 वर्षों से सक्रिय राजनीति में हैं। पाकिस्तान के राष्ट्रपति भवन, एवान-ए-सद्र में आयोजित एक सादे समारोह में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) प्रमुख 65 वर्षीय खान को राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने पद की शपथ दिलाई। समारेाह की शुरूआत राष्ट्रगान से हुई और बाद में कुरान की आयतें पढ़ी गयीं। काले रंग की शेरवानी पहने खान कुछ नर्वस से नजर आ रहे थे क्योंकि शपथ पढऩे के दौरान वह उर्दू के शब्दों को बोलने में अटक रहे थे। 1992 में क्रिकेट विश्व कप में पाकिस्तान को जीत दिलाने वाले कप्तान खान ने अपने शपथ ग्रहण समारोह में पुराने साथी क्रिकेटरों को भी बुलाया है। सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा, पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू, क्रिकेटर से कमांटेटर बने रमीज राजा, पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम सहित अन्य कई विशिष्ट अतिथि समारोह में उपस्थित थे।     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राहुल गाँधी के बचाव में आये ये नेता, बोले- पहले अपना ज्ञान बढ़ाये अमित शाह

नई दिल्‍ली। भारत में आगामी चुनाव बेहद काफी नजदीक