अंतरिक्ष में आज एकबार फिर बजेगा ISRO का डंका, जीसैट-6 का काउंटडाउन शुरू

- in राष्ट्रीय
सैटेलाइट आधारित मोबाइल कम्युनिकेशन मुहैया कराने के उद्देश्य से बृहस्पतिवार को छोड़े जाने वाले जीसैट-6 ए उपग्रह का 27 घंटे का काउंटडाउन शुरू हो गया। यहां से 110 किमी दूर श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष स्टेशन से यह उपग्रह इसरो के जीएसएलवी-एफ 08 रॉकेट से प्रक्षेपित किया जाएगा। कक्षा में स्थापित होने के बाद यह 10 साल तक काम करेगा।

 

अंतरिक्ष में आज एकबार फिर बजेगा ISRO का डंका, जीसैट-6 का काउंटडाउन शुरूइसरो के जीएसएलवी- एफ 08 रॉकेट से आज किया जाएगा लांच

इसरो ने बताया कि बुधवार को 13:56 मिनट पर इसका काउंटडाउन शुरू किया गया। श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर के दूसरे लांच पैड से बृहस्पतिवार को इस उपग्रह को 16:56 मिनट पर प्रक्षेपित किया जाएगा। यह जीएसएलवी-एफ 08 रॉकेट की 12वीं उड़ान होगी। इस रॉकेट की ऊंचाई 49.1 मीटर है और वजन 415.6 टन है। 

आई-2के बस इसरो ने ही बनाया है। यह सैटेलाइट को 3119 वॉट पावर देता है। इसका एंटीना छह मीटर व्यास वाला है। सैटेलाइट में लगने वाले सामान्य एंटीना से तीन गुना चौड़ा है। एस-बैंड यह मोबाइल की 4-जी सर्विस के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह मौसम की जानकारी देने वाले रडार, शिप रडार, कम्युनिकेशन सैटेलाइट में भी इस्तेमाल होता है। साथ ही मोबाइल कम्युनिकेशन में मदद करेगा। इसे सेना के इस्तेमाल के हिसाब से भी डिजाइन किया गया है।

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र