सार्वजनिक क्षेत्र की दो कंपनियों के आईपीओ इसी महीने, 815 करोड़ रुपये जुटेंगे

- in कारोबार

रेलवे की इंजीनियरिंग और निर्माण कंपनी इरकॉन इंटरनेशनल और रक्षा क्षेत्र की जहाज बनाने वाली कंपनी गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) इसी महीने आएगा। इन दोनों आईपीओ से सरकार को 815 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है।सार्वजनिक क्षेत्र की दो कंपनियों के आईपीओ इसी महीने, 815 करोड़ रुपये जुटेंगे

इरकॉन के आईपीओ के तहत शेयर बिक्री 17 सितंबर को खुलकर 19 सितंबर को बंद होगी। वहीं गार्डन रीच का आईपीओ 24 सितंबर को खुलकर 26 सितंबर को बंद होगा। दोनों कंपनियों के शेयर बीएसई और एनएसई में सूचीबद्ध होंगे। सरकार इन सार्वजनिक उपक्रमों के मूल्य दोहन के जरिये इनमें जवाबदेही बेहतर करना चाहती है। इस वजह से इन कंपनियों के आईपीओ लाए जा रहे हैं।

सरकार का लक्ष्य 2018-19 में सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों की शेयर बिक्री से 80,000 करोड़ रुपये जुटाने का है। इस साल जून में रेलवे की सलाहकार कपंनी राइट्स का आईपीओ काफी सफल रहा था। इरकॉन के आईपीओ के तहत 99,05,157 इक्विटी शेयरों या सरकार की दस प्रतिशत हिस्सेदारी की पेशकश की जाएगी। इसके लिए मूल्य दायरा 470 से 475 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है।

मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 470 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है। गार्डन रीच के मूल्य दायरा 115 से 118 रुपये प्रति शेयर रखा गया है। कंपनी में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री से सरकार को 345 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

मारूति की कारों का जलवा बरकरार, ये लो बजट कार रही नंबर वन

भारतीय कार बाजार में मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई)