US में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से जुड़े कार्यक्रम की हुई शुरूआत

वाशिंगटन । अमेरिका में शनिवार को सैकड़ों लोगों ने ‘स्टैचू ऑफ लिबर्टी’ और मैनहट्टन स्काइलाइन की पृष्ठभूमि में योग किया। न्यूयॉर्क स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास ने 21 जून को विश्व योग दिवस की चौथी वर्षगांठ से पहले इस कार्यक्रम का आयोजन किया।US में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से जुड़े कार्यक्रम की हुई शुरूआत

दो घंटे तक चले इस कार्यक्रम में योग, ध्यान, सूर्य नमस्कार, प्राणायाम और विभिन्न योगासन किए गए। सैकड़ों लोग अपने परिवार के साथ इसमें हिस्सा लेने आए थे। बच्चों द्वारा मलखंभ का प्रदर्शन लोगों को बहुत पसंद आया। मुख्य अतिथि सीनेटर कैरोलिन मैलनी ने कहा, ‘योग खुद को स्वस्थ रखने का अद्वितीय तरीका है। मैं खुद योगासन करती हूं। व्यायाम के साथ मस्तिष्क को आराम देने की यह अद्भुत प्राचीन शैली है।

योगासन करने से तनाव, थकान और पुराने दर्द से छुटकारा मिलता है। यह मेरे जीवन का हिस्सा बन चुका है।’ मैलनी ने कहा कि अमेरिका में करीब 3.6 करोड़ लोग इस प्राचीन भारतीय विज्ञान का अभ्यास करते हैं। 2012 से 2015 के बीच अमेरिका में योग करने वालों की संख्या में 80 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। योग ने भारत और अमेरिका के रिश्तों को नया आयाम दिया है। इससे दोनों देशों के लोग एक-दूसरे के करीब आए हैं।

नेपाल में 12 हजार की फीट की ऊंचाई पर पर्यटकों ने किया योग 

काठमांडू प्रेट्र : नेपाल के मस्तांग जिले में 12171 फीट की ऊंचाई पर स्थित प्रसिद्ध मुक्तिनाथ मंदिर में सैकड़ों लोगों ने योगासनों का अभ्यास किया। 21 जून को होने वाले विश्व योग दिवस की तैयारियों के तहत काठमांडू में भारतीय दूतावास ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था। सौ से अधिक पर्यटकों, बौद्ध भिक्षुओं और स्थानीय लोगों ने इसमें हिस्सा लिया। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के बाद यहां पर्यटकों की संख्या में पचास प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अमेरिका के मध्यावधि संसदीय चुनाव में 12 भारतवंशी मैदान में

अमेरिका में छह नवंबर को होने वाले मध्यावधि