दिलचस्प हैं इस सांसद की स्टोरी, इतनी पत्नियां की नाम तक भूले…

- in ज़रा-हटके

झारखंड। हमारे देश में सांसद पद का नाम सुनते ही ठाठ बाठ वाली जिंदगी का नजारा दिमाग में घुमने लगता है। जनता को रोटी, कपड़ा, मकान मिले न मिले, लेकिन सांसदों तिजोरियां हमेशा भरी रहती हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे सांसद से मिलाने जा रहे हैं जो बिलकुल साधारण उअर सरल अंदाज में अपना जीवन बिता रहे हैं। 

जी हां, झारखंड के पहले विधानसभा उपाध्यक्ष बनने का गौरव प्राप्त कर चुके बागुन सुम्ब्रुई का पिछले दिनों 96 साल की उम्र में निधन हो गया। बागुन हर मौसम में, चाहे गर्मी, सर्दी या बरसात, बस एक धोती लपेटकर ही रहते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अंडरवियर तो सभी पहनते हैं, लेकिन नहीं जानता होगा कोई भी इसका इतिहास

अंडरवियर एक ऐसी चीज़ है जिसे हर कोई