भारत ने सेशेल्स को उपहार स्वरूप दिया ड्रोन विमान, डोर्नियर के जरिये सुरक्षित होंगी समुद्री सीमाएं

नई दिल्ली । भारत ने सेशेल्स को दूसरा ड्रोन विमान उपहार के तौर पर दिया है। 2015 में पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी सेशेल्स यात्रा के दौरान दूसरा डोर्नियर विमान उपहार स्वरूप देने की घोषणा की थी। इसमें देरी इस वजह से हुई, क्योंकि सेशेल्स के राष्ट्रपति डैनी फॉर अपनी संसद से उस समझौते पर मुहर नहीं लगवा सके थे, जिसके तहत एसम्पसन द्वीप पर दोनों देशों को नौसेना का अड्डा स्थापित करना था।भारत ने सेशेल्स को उपहार स्वरूप दिया ड्रोन विमान, डोर्नियर के जरिये सुरक्षित होंगी समुद्री सीमाएं

-2013 में उपहार स्वरूप दिया गया था पहला डोर्नियर

यह डोर्नियर सेशेल्स में 29 जून से पहले पहुंच जाएगा। इस दिन वहां पर 42 वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा। इसे एचएएल ( हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लि.) में बनाया गया है। संयुक्त प्रेस वार्ता में सोमवार को पीएम मोदी ने उम्मीद जताई थी कि दोनों देशों के संबंध प्रगाढ़ होंगे और आइलैंड प्रोजेक्ट पर तेजी से काम किया जा सकेगा।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि दोनों देशों के संबंध नए आयाम लेते जा रहे हैं। डोर्नियर के जरिये सेशेल्स अपने समुद्री हितों को सुरक्षित कर सकेगा। सेशेल्स को पहला ड्रोन भारत ने 2013 में दिया था जबकि 2016 में उसे एक नौका भेंट की थी। सेशेल्स के राष्ट्रपति ने इस मौके पर कहा कि उनका देश भारत का भरोसा नहीं डिगने देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे भारत से भागा था विजय माल्या: CBI ने किया खुलासा..

  सूत्रों ने कहा कि पहले सर्कुलर में