Home > राज्य > उत्तराखंड > इस पिकनिक स्पॉट में अचानक बढ़ा जलस्तर, 25 से ज्यादा पर्यटक फंसे

इस पिकनिक स्पॉट में अचानक बढ़ा जलस्तर, 25 से ज्यादा पर्यटक फंसे

गुच्चूपानी पिकनिक स्पॉट में अचानक जल स्तर बढ़ने से 25 से ज्यादा पर्यटक नदी के दूसरी तरफ फंस गए। जिससे पर्यटकों में अफरा-तरफी मच गई। इसी बीच स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दे दी। सूचना पर मौके पर पहुंची कैंट पुलिस ने स्थानीय लोगों के साथ मिलकर रस्सी आदि के सहारे भारी मशक्कत के बाद उन्हें सकुशल बाहर निकाला। पर्यटक दिल्ली, गुडगांव सहित अन्य राज्यों के बताए जा रहे हैं।

रविवार को अवकाश होने के कारण दिल्ली सहित अन्य स्थानों से बड़ी संख्या में पर्यटक अनारवाला स्थित गुच्चूपानी में जल क्रीड़ा का लुत्फ उठाने आए थे। दोपहर लगभग तीन बजे के करीब हल्की बारिश की बूंदे पड़ने लगी। जबकि, मसूरी और राजपुर क्षेत्र में भारी बारिश हो रही थी। जिसके चलते नदी का जल स्तर अचानक बढ़ गया। जिससे नदी में जल क्रीड़ा कर रहे पर्यटक सहित नदी के दूसरे छोर पर पिकनिक मना रहे पर्यटकों में चीख-पुकार मच गई।

नदी में नहा रहे पर्यटकों को तो तुंरत स्थानीय लोगों ने बाहर निकाल लिया, लेकिन जलस्तर बढ़ने के कारण दूसरी छोर गए 25 से ज्यादा पर्यटक वहीं फंस गए। पर्यटकों की ओर से मदद की गुहार लगाने के बाद स्थानीय लोगों ने तुरंत कैंट पुलिस को सूचित कर दिया। सूचना पर कैंट पुलिस रस्सी और अन्य उपकरण लेकर गुच्चूपानी पहुंची। वहीं, आसपास स्थित गाव के लोग भी नदी किनारे मदद के लिए जुटने लगे। इसके बाद पुलिस ने रस्सी के सहारे कड़ी मशक्कत के बाद फंसे पर्यटकों को सुरक्षित नदी के दूसरे छोर निकाला।

कोतवाली कैंट इंस्पेक्टर शंकर सिंह बिष्ट ने बताया कि नदी में फंसे पर्यटक दिल्ली, गुडगांव सहित अन्य राज्यों के थे। उनमें बच्चे, महिलाएं और बुजुर्ग शामिल थे। सभी को सुरक्षित निकाल लिया गया है। अक्सर फंसते हैं पर्यटक गुच्चुपानी में पहले भी कई बार इस प्रकार की घटना हो चुकी हैं। कई बार पर्यटक नदी के दूसरी छोर या नदी के बीच में बने अस्थायी टापू में फंस जाते हैं। उन्हें भी आसपास स्थित लोगों की मदद से पुलिस ने सुरक्षित निकाल लिया था।

Loading...

Check Also

पूर्व सीएम हरीश रावत ने दी अनशन की चेतावनी, जानिए इसका कारण

राज्य में गन्ने के समर्थन मूल्य को लेकर  पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अनशन की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com