रुझानों में पिछड़ी नवाज की पार्टी, इमरान की पीटीआई 113 सीटों पर आगे

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में नेशनल असेंबली चुनाव की मतगणना में पूर्व क्रिकेटर एवं राजनेता इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ (पीटीआई) अन्य दलों के मुकाबले काफी आगे चल रही है। पीटीआई ने अब तक 113 सीटों पर बढ़त बना ली है।

पाकिस्तान के डॉन अखबार के मुताबिक नेशनल असेंबली की 272 सीटों के मिले रुझान में पीटीआई 113 सीटों पर आगे चल रही है जबकि भ्रष्टाचार मामले में जेल की सजा काट रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने 66 सीटों पर आगे है।

पाकिस्तान की दो बार प्रधानमंत्री रहीं दिवंगत नेता बेनजीर भुट्टे के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी की पार्टी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने 39 सीटों पर बढ़त बना रखी है। पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह स्पष्ट धोखाधड़ी है।

जिस तरह से जनादेश का अपमान किया गया है, वह बर्दास्त नहीं है। गौरतलब है कि पाकिस्तान में नेशनल असेंबली की 272 सीटों के लिए बुधवार को मतदान हुआ था और कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कल ही मतगणना शुरू हो गई थी। देशभर के मतदान केंद्रों पर 371,000 सैनिक तैनात किए गए हैं जो वर्ष 2013 में हुए चुनाव के दौरान तैनात किए गए सैनिकों की संख्या के लगभग पांच गुना है। 

नतीजों में देरी के पीछे षड्यंत्र नहीं: चुनाव आयोग
पाकिस्तान में चुनाव आयोग के सचिव बाबर याकूब ने बुधवार को कहा कि चुनाव नजीतों में देरी के पीछे कोई‘ षड्यंत्र’नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसा तकनीकी विफलता की वजह से हो सकता है क्योंकि देश में नई परिणाम प्रेषक प्रणाली प्रारंभ की गई है।

पाकिस्तान के डॉन अखबार के मुताबिक याकूब ने बताया कि एक ही समय में हजारों मतदान अधिकारियों के अत्यधिक उपयोग के कारण सिस्टम खराब हो गया। उन्होंने कहा, कोई दबाव और कोई षड्यंत्र नहीं है। हमने किसी भी परिणाम को नहीं रोका है। परिणाम प्रेषक प्रणाली में गड़बड़ी की वजह से देरी हुई है। उन्होंने कहा कि जिस सिस्टम का प्रयोग पहली बार हो रहा है उसके बड़े पैमाने पर उपयोग करने को लेकर परीक्षण नहीं किया गया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का