मनी लांड्रिंग केस में पूर्व राष्ट्रपति जरदारी सहित 20 संदिग्धों को किया भगोड़ा घोषित

पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी  ने 35 अरब रुपये के मनी लांड्रिंग के मामले में पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी और उनकी बहन समेत 20 संदिग्धों को भगोड़ा घोषित कर दिया है।

पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक एफआईए ने जरदारी के सहयोगी और जानेमाने बैंकर हुसैन लवाई और अन्य संदिग्धों को अदालत में पेश किया।

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) की सह अध्यक्ष और जरदारी की बहन फरयाल तलपुर, एक निजी बैंक के अध्यक्ष और अन्य 18 लोगों को भगोड़ा घोषित किया गया है। इन लोगों के खिलाफ चालान काटा गया है।

लवाई पर आरोप है कि उन्होंने समिट बैंक, सिंध बैंक और यूनाइटेड बैंक लिमिटेड 29 फर्जी खाते खुलवाने में मदद की। पुलिस की दर्ज शिकायत में कहा गया है कि अरबों रुपये फर्जी खाते में जमा किए गए। इस रकम को बाद में जरदारी और उनकी बहन की कंपनी जरदारी ग्रुप तक पहुंचाया गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सेना के इशारे पर काम करती है पाकिस्‍तान सरकार : पूर्व PM अब्‍बासी

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान से पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्‍बासी ने वहां की