थाइलैंड में पानी से भरी अंधेरी गुफा में 9 दिन से फंसे 12 बच्चे बचे सुरक्षित

थाईलैंड में पिछले 9 दिनों से लापता 12 बच्‍चे और उनके फुटबॉल कोच पानी से भरी गुफा में सुरक्षित मिले हैं. ये सभी नौ दिन से उत्तरी थाईलैंड की थाम लौंग गुफा में फंसे हुए थे. विशेषज्ञ गोताखोर कीचड़ व पानी से भरी सुरंगों से होते हुए इन लोगों तक पहुंचे. पिछले 9 दिनों से इन सभी से कोई संपर्क नहीं था. सभी बच्‍चों की उम्र 11-16 साल के बीच है. दरअसल यह फुटबॉल टीम और उनके 25 वर्षीय सहायक कोच 23 जून को अभ्यास के बाद गुफा में घूमने गए थे लेकिन भारी बारिश के बाद अंदर फंस गए.
थाइलैंड में पानी से भरी अंधेरी गुफा में 9 दिन से फंसे 12 बच्चे बचे सुरक्षित
भारी बारिश की वजह से बचाव अभियान बाधित हुआ. गुफा में पानी भर गया जिससे उस जगह पहुंचने में मुश्किल हुई. सोमवार को मौसम में थोड़ा सुधार होने का फायदा उठाते हुए गोताखोर गुफा अंदर पहुंचे जहां वे सभी सुरक्षित मिले. सभी को बाहर निकालने के लिए डाइवर्स की मदद ली जा रही है.

Hooyah…..ทีมหมูป่าพบเยาวชนทีมหมูป่าบริเวณหาดทรายห่างจาก Pattaya beach 200 เมตร โดยนักดำน้ำหน่วยซีลดำน้ำวางไลน์เชือกนำทาง ร่วมกับนักดำน้ำจากประเทศอังกฤษ ระยะทางจากห้องโถง 3 ยาว 1,900 เมตร เมื่อเวลา 21.38 น. คืนวันที่ 2 กรกฎาคม 2561#ThainavySEAL

Gepostet von Thai NavySEAL am Montag, 2. Juli 2018

गवर्नर नारोंगसाक ओसोत्‍तानाकोर्ण ने इन लोगों के सुरक्षित होने की खबर दी. खबर सुनते ही पत्रकारों ने तालियां बजाकर खुशी जाहिर की. गर्वनर ने बताया, ‘हमने सभी 13 को सुरक्षित खोज लिया है. ठीक होने तक उनका ख्‍याल रखा जाएगा. मुझे इस बात की जानकारी नहीं है कि वे अभी खाना खा सकते हैं या नहीं क्‍योंकि कई दिनों से वे भूखे हैं.’ ‘वाइल्ड बोर’ फुटबॉल टीम के मित्रों एवं शिक्षकों ने इन किशोर खिलाड़ियों के जिंदा होने पर खूब जश्‍न मनाया. तिलेक जाना ने अपने दोस्त प्रजाक के बारे में कहा, ‘उसे आने दीजिए और फिर हम साथ मिलकर फुटबॉल खेंलेंगे.’

Loading...

Check Also

श्रीलंका में मचा राजनीतिक घमासान, राष्ट्रपति के फैसले के खिलाफ अदालत में चुनौती

श्रीलंका में मचा राजनीतिक घमासान, राष्ट्रपति के फैसले के खिलाफ अदालत में चुनौती

श्रीलंका की मुख्य राजनीतिक पार्टियों और चुनाव आयोग के एक सदस्य ने सोमवार को राष्ट्रपति मैत्रीपाला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com