सीएम योगी के काफिले के सामने आकर बोला युवक, मैं जिंदा हूं, जानिए क्या है मामला

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिनी वाराणसी दौरे पर शनिवार को आए थे। रविवार को बड़ा लालपुर स्थित दीनदयाल हस्तकला संकुल में आयोजित कार्यक्रम संपन्न होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ निकले तो उनके काफिले के सामने अपने गले में मैं जिंदा हूं की तख्ती लटकाए एक युवक जा खड़ा हुआ।

हालांकि सुरक्षा व्यवस्था में तैनात पुलिसकर्मियों ने युवक को तत्काल खींच कर किनारे किया और हिरासत में ले लिया। मुख्यमंत्री के जाने के बाद उसे छोड़ दिया। काफिले के सामने युवक के अचानक आने से मौके पर थोड़ी देर के लिए अफरातफरी की स्थिति पैदा हो गई थी।

चौबेपुर थाना अंतर्गत छितौनी गांव निवासी संतोष सिंह ने बताया कि परिवार के लोगों ने मेरी संपत्ति हड़प कर कानूनगो और लेखपाल की मिलीभगत से वर्ष 2004 में कागजों में मुझे मृत घोषित करा दिया। खुद को जिंदा साबित करने के लिए जिलाधिकारी कार्यालय से लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री कार्यालय तक प्रार्थना पत्र दे चुका हूं, लेकिन कार्रवाई नहीं हो रही है। 

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सांसद आदर्श गांव डोमरी में जनचौपाल के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाहन में बैठे तो सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए महिला फरियादी उनके पास पहुंच गईं और प्रार्थना पत्र देकर फरियाद सुनाने लगी। यह देख पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राहुल गाँधी के बचाव में आये ये नेता, बोले- पहले अपना ज्ञान बढ़ाये अमित शाह

नई दिल्‍ली। भारत में आगामी चुनाव बेहद काफी नजदीक