बड़ी खुशखबरीः हवाई यात्रा के दौरान मोबाइल Wi-Fi इंटरनेट चलाने को भी मिली मंजूरी

- in कारोबार, बड़ी खबर
हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए खुशखबरी। आने वाले कुछ दिनों में यात्री प्लेन में सफर के दौरान अपने मोबाइल फोन को स्विच ऑन रख सकेंगे। इसके साथ ही वो हवा में वाई-फाई इंटरनेट का भी प्रयोग कर सकेंगे। 

 

टेलीकॉम कमीशन ने माना ट्राई का सुझाव
टेलीकॉम कमीशन ने दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) के पहले से दिए गए प्रस्ताव को अपनी मंजूरी दे दी है। इसके अनुसार इंटरनेट टेलीफोनी और पब्लिक वाई-फाई डाटा ऑफिस पर ट्राई के प्रस्ताव भी मंजूर कर लिए गए हैं, जिससे अब यात्री हवाई यात्रा में भी कॉल कर पाएंगे।

3 हजार मीटर की ऊंचाई पर मिलेगी सुविधा
ट्राई ने सुझाव दिया था कि एक बार एयरक्राफ्ट 3000 मीटर की ऊंचाई पर पहुंच जाए तो फोन करने की मंजूरी दे सकते है।  कॉल करने के लिए अब आपको अपना फोन फ्लाइट मोड पर नहीं रखना पड़ेगा। ये सुविधा 3 से 4 महीने में मिल सकती है।

एयरलाइंस को लेना होगा लाइसेंस

फ्लाइट में वाईफाई इक्विपमेंट लगाने पर कंपनियों को ज्यादा खर्च उठाना पड़ेगा। टेलीकॉम मंत्रालय ने हवाई यात्रा के दौरान फ्लाइट में वॉयस, डेटा और वीडियो सेवा देने पर रेगुलेटर की राय मांगी थी। ट्राई ने अपने सुझावों में कहा था कि दुनिया की करीब 30 एयरलाइंस फ्लाइट में कॉल और इंटरनेट की सुविधा देती हैं।फ्लाइट में सुविधा देने के लिए अलग से लाइसेंस लेना होगा। 

सरकार लेकर आएगी लोकपाल
टेलीकॉम कमीशन की अहम बैठक में टेलीकॉम सेक्टर में लोकपाल बनाने की सिफारिश मंजूर कर ली गई है। इस पर टेलीकॉम सेक्रेटरी ने कहा है कि टेलीकॉम लोकपाल के लिए ट्राई एक्ट में संशोधन की जरूरत होगी।

ये लोकपाल बिलिंग, नंबर पोर्टेबिलिटी, ब्रॉडबैंड स्पीड और अन्य शिकायतों के खिलाफ कार्रवाई कर सकेगा। ट्राई ने मार्च 2017 में इस पर अपनी सिफारिशें सौंपी थीं जिसमें तीन स्तरीय मैकेनिज्म बनाने की बात कही गई थी।

इस तीन स्तरीय मैकेनिज्म के तहत पहले शिकायत पर टेलीकॉम कंपनी सुनवाई करेगी। हल नहीं होने पर मामले को कंज्यूमर ग्रीवांस रीड्रेसल फोरम देखेगा और अंतिम फैसला लोकपाल लेगा। लोकपाल के ऑफिस राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर होंगे।

 
 
=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सोना-चांदी एक बार फिर खरीदना हुआ महंगा

नई दिल्ली। मजबूत वैश्विक संकेत और घरेलू ज्वैलर्स की