रांची के एक मंदिर में मांस मिलने से मचा हडकंप, लगा कर्फ्यू

- in अपराध

झारखंड की राजधानी रांची बीते कई दिनों से सांप्रदायिक तनाव की स्थिति से गुजर रहा है. शुक्रवार को फिर से रांची के नगड़ी इलाके में सांप्रदायिक तनाव का माहौल भड़क उठा, जिसके चलते इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया. बताया जा रहा है कि एक मंदिर में मांस का टुकड़ा मिलने के बाद लोग सड़कों पर उतर आए थे और फिर देखते ही देखते एकदूसरे पर पथराव शुरू कर दिया था.

पुलिस ने बताया कि गुरुवार की देर रात फिर से दो गुटों में हिंसा हुई, जिसके बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गयी है. पुलिस ने ईद के मद्देनजर इलाके में सुरक्षा बंदोबस्त चाक चौबंद कर रखा है.

बता दें कि बीते रविवार को नगड़ी इलाके में कुछ असामाजिक तत्वों ने नमाज से लौट रहे एक मौलाना के साथ जमकर मारपीट की. हमलावर जय श्रीराम बोलकर मौलाना को पीट रहे थे. इस हमले के बाद इलाके में तनाव फैल गया. हालांकि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है.

सरकारी विभाग के इस कर्मचारी को एंटी करप्शन की टीम ने रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा

पुलिस ने बताया कि मौलाना अज़हर-उल-इस्लाम एक अन्य व्यक्ति के साथ बाइक से अपने घर लौट रहे थे. तभी कुछ लोगों ने उन्हें रास्ते में रोका और उनके साथ जमकर मारपीट की. इस हमले में मौलाना गंभीर रूप से घायल हो गए. मौलाना के साथ मौजूद दूसरा व्यक्ति किसी तरह से जान बचाकर भाग निकला लेकिन मौलाना उनके हत्थे चढ़ गए.

बताया जाता है कि मौलाना के साथ मारपीट करने वालों ने पहले जय श्रीराम का नारा लगाया फिर उन्हें डंडे और हॉकी से जमकर मारा पीटा . सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मुख्यमंत्री सहायता निधि से पीड़ित को तत्काल एक लाख रुपये मुहैया करवाए, ताकि उनका इलाज समुचित ढंग से हो सके.

झारखण्ड के IG ऑपरेशन के मुताबिक इस घटना में शामिल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था, जो इलाके के ही रहने वाले हैं. पुलिस ने बताया था गिरफ्तार आरोपी घटना के समय नशे में थे.

पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था और कुछ गिरफ्तारियां भी की गईं. बावजूद इसके इलाके में सांप्रदायिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

देवर को भाभी से संबंध बनाना पड़ा महंगा, भाभी ने काट लिया….अंग

दुनियाभर से ना जाने कितने ही अपराध की