अगर आप में हैं ये 7 आदतें, तो आप साबित होंगे ‘बुरे’ पति!

- in जीवनशैली

शादी के बाद कई महिलाओं की ये शिकायत होती है कि उनके पति उन्हें वो सम्मान नहीं देते जो उन्हें मिलना चाहिए. रिश्ता खट्ठे-मीठे पलों का मिश्रण है. पति-पत्नी के रिश्ते में अगर केवल खटास ही रह जाए तो फिर उस रिश्ते का कोई मतलब नहीं रह जाता. शादी के रिश्ते को सहेजने के लिए पति और पत्नी दोनों को ही बराबर कोशिशें करनी चाहिए. अगर एक भी अपनी जिम्मेदारी ना निभाएं तो फिर रिश्ते की डोर कमजोर पड़ जाती है. आइए जानते हैं पुरुषों की उन आदतों के बारे में जिनकी वजह से वे अच्छे पति नहीं बन पाते हैं.

अगर आप में हैं ये 7 आदतें, तो आप साबित होंगे 'बुरे' पति!1- आलोचना करना- कई बार ऐसा देखा गया है कि दूसरों के सामने पति अपनी पत्नियों की आलोचना करते नजर आते हैं. या कभी-कभी अपने मन-पसंद का खाना ना मिलने पर भी उन्हें तरह-तरह की बातें सुनाते हैं. ऐसा करना गलत है. आपको उन्हें ये बताने की जरूरत है कि उनकी कौन सी बात आपको पसंद नहीं आई. इसके बाद आपको उनके अच्छे कामों की प्रशंसा करने की भी जरूरत है.

2- रोक-टोक लगाना- शादी के बाद पति अपनी पत्नियों पर तरह-तरह की रोक-टोक लगाते रहते हैं. उन्हें ये समझने की जरूरत है कि जैसे उनकी कुछ इच्छाएं हैं वैसी ही दूसरों की भी हैं. ज्यादा रोक-टोक से पत्नियों के स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है. उन्हें मर्दों की तरह दोस्त बनाने, घूमने-फिरने की पूरी आजादी होनी चाहिए, ताकि वो अपने जीवन में स्वतंत्र महसूस कर सकें और उन्हें आपका साथ किसी तरह का बंधन महसूस ना हो.

3- उन्हें सिर्फ एक काम करने की मशीन समझना- अगर आप रोज दफ्तर जाते हैं तो महिलाएं भी घर में गृहस्थी संभालने का काम करती हैं. ऐसे में उनसे ज्यादा काम कराना कोई बड़ाई वाली बात नहीं है. आजकल तो महिलाएं ऑफिस के साथ-साथ घर-गृहस्थी के काम करती हैं. ऐसे में घर के छोटे-मोटे कामों का भार अगर पति अपने सर ले लें, तो ये पत्नियों के लिए बड़े आराम की बात होगी.

4- प्यार जताना भूल जाना- दिनभर की भागदौड़ में व्यस्तता के कारण कई बार पति अपनी पत्नियों को पर्याप्त समय नहीं दे पाते हैं. अगर आप व्यस्त हैं तो कम से कम 2 मिनट का वक्त निकाल कर उन्हें हग करें और बताएं कि आप उनसे कितना प्यार करते हैं और उनकी आपके जीवन में कितनी अहमियत है.

5- बात करने का गलत लहजा- पति-पत्नी एक गाड़ी के दो पहिए होते हैं. दोनों का एक-दूसरे के बगैर रहना मुमकिन नहीं हो सकता. दोनों को एक-दूसरे की जरूरत होती है. कई बार पति काम के तनाव के कारण अपनी पत्नी पर गुस्सा जाहिर कर देते हैं या कई बार ठीक तरीके से बात नहीं करते हैं. ऐसे में आपको बात करते समय विनम्र होने की जरूरत है ताकि उन्हें भावनात्मक ठेस ना पहुंचे. वो आपसे कुछ पल का प्यार चाहती हैं, अगर आप रोज ऐसा करेंगे तो उन्हें सबसे ज्यादा खुशी होगी.

6- झूठ ना बोलें- अगर आपको लगता है कि आप शादी के बाद किसी और के साथ रिश्ता बनाने की कोशिश करेंगे और आपकी पत्नी इससे अनजान रहेगी तो ये आपकी गलतफहमी है. हर रिश्ते की एक आत्मीयता होती है और झूठ की बुनियाद पर आप कोई रिश्ता खड़ा नहीं कर सकते. इसलिए जरूरी है कि आप रिश्ता निभाते वक्त अपनी पत्नी के प्रति ईमानदार रहने की कोशिश करें.

7- ज्यादा उम्मीदें रखना- हर इंसान रिश्ते निभाने के दौरान एक दूसरों से हद से ज्यादा उम्मीद रखने लगता है. हर इंसान के अंदर स्वार्थ स्वाभाविक रूप से मौजूद होता है. किसी से एक हद तक उम्मीद रखना गलत नहीं है. मगर ये भी समझना जरूरी है कि हर इंसान के अंदर अगर कुछ प्रतिभाएं हैं तो दूसरी तरफ कुछ खामियां भी हैं. कोई भी इंसान आपको हर तरह से संतुष्ट नहीं कर सकता. आपको ये समझने की जरूरत है कि आप ज्यादा आकांक्षाएं रखने की बजाए अपने लाइफ पार्टनर से प्यार और आदर का भाव रखें.

You may also like

ब्यूटी टिप्स: अब रात भर में पाएं गोरी और चमकदार त्वचा, अपनाएं ये तरीके

काला रंग किसी लड़की की खूबसूरती पर बहुत