घर वाले नहीं माने तो लड़का भगा लाया लड़की, 2 माह बाद इस हाल में मिली कि रूह कांप गई

- in उत्तराखंड, राज्य

अपने प्यार पर भरोसा कर लड़की सबकुछ छोड़कर प्रेमी के साथ फरार हो गई। लेकिन दो माह के बाद लड़की कुछ इस हाल में मिली कि देखने वालों की रूह कांप गई।

अलीपुरा गांव से प्रेमी संग फरार हुई युवती की उसके प्रेमी ने हत्या कर शव को रुड़की गंगनहर में फेंक दिया था। पुलिस ने शनिवार की रात आरोपी युवक को गिरफ्तार कर हत्याकांड का खुलासा किया है।

बता दें कि गांव अलीपुरा निवासी एक लड़की अपने ही प्रेमी रिश्तेदार के साथ 12 दिसंबर को चली गई थी। काफी तलाश के बाद लड़की नहीं मिली तो परिजनों ने आरोपी युवक शामली जिले के थानाभवन के गांव गौसगढ़ निवासी जय कुमार पुत्र सुदेश को नामजद करते हुए कोतवाली में लड़की के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था।
17 फरवरी को युवक-युवती को गंगनहर के पास टहलते हुए देखा गया था

पुलिस ने शुक्रवार की रात आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस के अनुसार पूछताछ में आरोपी युवक ने बताया कि 17 फरवरी को उसने प्रेमिका की गला घोंटकर हत्या कर शव को नहर में फेंक दिया था।

शनिवार को पुलिस सत्यता की जांच के लिए आरोपी व पीड़ित परिजनों को रुड़की लेकर गई थी।

मामले की विवेचना कर रहे एसआई नीरज गुप्ता ने बताया कि आरोपी द्वारा बताए गए स्थान पर पहुंच कर आसपास के लोगों से जानकारी की गई। वहां कुछ लोगों ने बताया कि 17 फरवरी को युवक-युवती को गंगनहर के पास टहलते हुए देखा गया था।

आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसका चालान किया

इसके बाद पुलिस ने कई थानों में किसी अज्ञात युवती का शव मिलने की जानकारी की।

मंगलौर थाने पहुंचने पर पता चला कि 22 फरवरी को एक लिंक नहर से एक अज्ञात युवती का शव बरामद हुआ था। मंगलौर पुलिस ने मृतका के फोटो व शरीर से मिले कपड़े, लाकेट आदि सामान दिखाया तो आरोपी व पीड़ित परिजनों ने युवती की शनाख्त की।

इसके बाद गंगोह पुलिस बरामद सामान को लेकर वापस आ गई। रविवार को जांच के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसका चालान किया है।

शादी कर कोतवाली पहुंचा प्रेमी जोड़ा, सुरक्षा की मांग

रुड़की में शादी कर प्रेमी जोड़े ने सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। आरोप था कि युवती पक्ष के लोग किसी भी अप्रिय घटना को अंजाम दे सकते है। पुलिस ने प्रेमी जोड़े को सुंक्षा का भरोसा देते हुए कुछ दिनों के लिए घर न जाने की सलाह दी हैं।

मिली जानकारी के अनुसार पठानपुरा के एक युवक की रिश्तेदारी भगवानपुर में है। जिसके चलते युवक का अपनी रिश्तेदारी की ही युवती से प्रेम प्रंसग हो गया। युवक का दावा है कि प्रेम प्रंसग के बाद युवती पक्ष के लोग शादी को भी राजी हो गए, लेकिन कुछ दिनों पहले युवती पक्ष के लोगों ने शादी से मना कर दिया। जबकि युवती शादी करने की जिद्द पर अड़ गई।

आरोप है कि परिजनों ने युवती को तरह-तरह की यातनाएं दी। जिसके चलते युवती ने शनिवार को घर से निकलकर निगाह कर लिया, लेकिन युवती पक्ष के लोग उनकी जान के दुश्मन बने हुए है। युवक का आरोप यह भी था कि मामले को लेकर युवती पक्ष के लोगों ने उसके परिजनों को बंधक बना रखा है, लेकिन कुछ लोगों के हस्तक्षेष के चलते परिजनों को तो छोड़ दिया गया है।

जबकि उन दोनों की तलाश कर रहे हैं। जिसके चलते उन्हें युवक के घर सुरक्षित पहुंचा दिया जाए। पुलिस ने दोनों ने प्रेमी जोड़े को आश्वासन दिया है कि यदि उन्हें कोई भी दिक्कत होती है, तो वह तुरंत पुलिस को सूचित करें उनकी पूरी मदद की जाएगी। इसके साथ ही पुलिस ने युवक को कुछ दिनों तक घर न जाने की सलाह दी है। जिसके बाद दोनों कोतवाली से निकल गए।

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों