इस तारीख तक अगर नहीं लिया वॉट्सऐप बैकअप, तो झेलनी पड़ सकती ये भारी मुसीबत

- in गैजेट
वॉट्सऐप ने अपनी ऑफिशियल वेबसाइट पर यूजर्स को गूगल ड्राइव पर सेव उनके डाटा का बैकअप 12 नवंबर 2018 तक लेने की सलाह दी है। कंपनी ने कहा है कि इस तारीख के बाद अगर यूजर्स ने अपने डाटा का मैन्युअली बैकअप नहीं लिया तो उनका डाटा डिलीट हो जाएगा। इसके अलावा जिन यूजर्स ने अपने वॉट्सऐप डाटा का गूगल ड्राइव पर पिछले एक साल से बैकअप नहीं लिया है उन्हें 30 अक्टूबर तक का समय दिया गया है। अगर इसके बाद भी यूजर ने डाटा बैकअप नहीं लिया होगा तो उनका डाटा ऑटोमेटिकली डिलीट हो जाएगा।इस तारीख तक अगर नहीं लिया वॉट्सऐप बैकअप, तो झेलनी पड़ सकती ये भारी मुसीबत
जानें क्यों लेना होगा वॉट्सऐप डाटा का बैकअप?

आपको बता दें कि वॉट्सऐप और गूगल पार्टनरशिप के बाद यूजर्स को गूगल ड्राइव में डाटा बैकअप के लिए फ्री स्पेस दिया जाएगा। यह साझेदारी 12 नवंबर से इफेक्टिव होगी। ऐसे में गूगल ड्राइव पर वॉट्सऐप स्टोरेज फ्री में पाने के लिए यूजर्स को 1 साल पुराने डाटा का मैनुअली बैकअप लेना होगा। अगर ऐसा नहीं होता है तो वो ऑटोमैटिकली डिलीट हो जाएगा।

कैसे लें गूगल ड्राइव पर बैकअप:

  • सबसे पहले वॉट्सऐप को ओपन करें।
  • अब Menu पर टैप करें। इसके बाद Settings पर जाकर Chats पर टैप करें। और फिर Chat backup पर टैप करें।
  • इसके बाद गूगल ड्राइव को सेलेक्ट करें और backup frequency other than Never को सेलेक्ट करें।
  • इसके बाद गूगल अकाउंट सेलेक्ट करें जिस पर आपको चैट हिस्ट्री सेव करनी है।
  • इसके बाद आपको नेटवर्क सेलेक्ट करना होगा जिसपर आपको बैकअप लेना है। ध्यान रहे सेल्यूलर नेटवर्क पर बैकअप लेने से अतिरिक्त डाटा चार्ज लग सकते हैं।

गूगल ड्राइव पर कैसे लें मैनुअली बैकअप?

  • WhatsApp ओपन करें।
  • अब Menu पर टैप करें। इसके बाद Settings पर जाकर Chats पर टैप करें। और फिर Chat backup पर टैप करें।
  • बैकअप पर क्लिक करें। इस प्रोसेस में कुछ समय लग सकता है।

नोट: गूगल ड्राइव में मैसेज और मीडिया कंटेंट में सेव वॉट्सऐप डाटा एंड-टू-एंड सब्सक्रिप्शन के तहत नहीं आता है। ऐसे में आपका डाटा गूगल द्वारा पढ़ा जा सकता है।

वॉट्सऐप ने एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन किया था पेश:

वॉट्सऐप ने यूजर्स की सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हुए वर्ष 2016 में एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन लागू किया था। इसके तहत यूजर्स के सभी मैसेज, कॉल, वीडियो, फोटोज आदि को यूजर के अलावा कोई एक्सेस नहीं कर पाएगा। हाल ही में वाट्सऐप के सीईओ क्रिस डैनियल ने फेक न्यूज के मामले को लेकर भारत सरकार से मुलाकात की। क्रिस डैनियल ने भारत की एक मांग को मानने से साफ इनकार कर दिया जिसमें कहा गया था जहां से मैसेज सबसे पहले भेजा गया है उसका पता लगाया जाए। इस पर वॉट्सऐप ने कहा है कि वो यूजर के डाटा को एक्सेस नहीं कर सकती है क्योंकि ये एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड होते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

अब NAMO एप से खरीद सकेंगे टी-शर्ट, नोटबुक, टोपी और मग जैसी चीजें…

2019 का चुनाव सिर पर है और इससे