आईसीसी वनडे रैंकिंग में भारत को पछाड़कर शीर्ष पर काबिज हुआ इंग्लैंड

- in खेल

इंग्लैंड की टीम भारत को पछाड़कर आईसीसी वनडे रैकिंग में शीर्ष स्थान पर काबिज हो गई है. इंग्लैंड को 2014-15 के सत्र के कारण फायदा मिला है, जिसमें पूर्ण सदस्यों के खिलाफ 25 में से उसने सात ही वनडे जीते.

उस सत्र को ताजा गणना से हटा दिया गया है, जबकि 2015-16, 2016-17 को 50 प्रतिशत गिना गया है. पिछली बार जनवरी 2013 में वनडे रैकिंग में शीर्ष पर आई इंग्लैंड टीम के 125 अंक हैं.

दूसरी ओर भारत एक अंक गंवाकर 122 अंक के साथ दूसरे स्थान पर है. दक्षिण अफ्रीका एक पायदान खिसककर तीसरे स्थान पर आ गया है, जिसके 113 अंक है. न्यूजीलैंड उससे एक अंक पीछे चौथे स्थान पर है.

बाकी रैंकिंग में कोई बदलाव नहीं हुआ है, जिसके मायने हैं कि मौजूदा शीर्ष 10 टीमें वर्ल्ड कप 2019 खेलेंगी. वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया आठ अंक गंवाकर पांचवें स्थान पर है, जबकि पाकिस्तान छठे स्थान पर है. 

बांग्लादेश (93 अंक) को तीन अंक मिले जबकि श्रीलंका (77) ने सात अंक गंवाए. वेस्टइंडीज ( 69 ) ने पांच अंक गंवाए, लेकिन अफगानिस्तान ( 63 ) ने पांच अंक हासिल किए. टी-20 रैंकिंग में कोई बदलाव नहीं है, जिसमें पाकिस्तान शीर्ष पर है. अफगानिस्तान अब श्रीलंका से आगे आठवें स्थान पर है. ऑस्ट्रेलिया दूसरे और भारत तीसरे स्थान पर है. इनके बाद न्यूजीलैंड और इंग्लैंड की टीमें हैं.

कभी आपने सुना है- 2 गेंदों में किसी ने दियें 26 रन! मुंबई का शर्मनाक कारनामा

इंग्लैंड ने अपने कोच ट्रेवर बेलिस के मागदर्शन और कप्तान इयोन मोर्गन के नेतृत्व में 2014-15 सीजन के बाद खेले गए 63 में से 41 मैचों में जीत हासिल की. इंग्लैंड ने अपनी पिछली छह वनडे सीरीज जीती हैं और 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के सेमीफाइनल तक का सफर तय किया. इसके साथ ही वह 2019 में होने वाले वर्ल्ड कप खिताब के प्रबल दावेदारों में से एक है.

टेस्ट टीमों की रैंकिंग में इंग्लैंड पाचवें स्थान पर है. इसमें भारतीय टीम पहले स्थान पर काबिज है. इसके अलावा, टी-20 रैंकिंग में भी इंग्लैंड की टीम पांचवें स्थान पर ही है और पाकिस्तान ने पहले स्थान पर कब्जा जमा रखा है.

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

एलीना स्वितोलीना ने जीता इटैलियन ओपन

दिल्ली:  इटैलियन ओपन के फाइनल में युक्रेन की टेनिस