IAS अनुराग तिवारी के कपड़ों से मिला ऐसा सबूत, जिसे देख हत्या का शक गहराया

कर्नाटक काडर के आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी (35) की संदिग्ध मौत के मामले में मंगलवार को एक और ऐसा साक्ष्य सामने आ गया जो उनकी हत्या की तरफ इशारा कर रहा है। जांच में जुटी टीम को अनुराग के कपड़ों की छानबीन में दस सेंटीमीटर का एक पैच मिला है जो उनके यूरीन का है।
IAS अनुराग तिवारी के कपड़ों पर मिला ये सबूत, हत्या का शक गहराया
फोरेंसिक एक्सपर्ट्स का कहना है कि प्राण त्यागते वक्त उनका यूरीन निकल गया था। दम घुटने की सामान्य घटनाओं में अमूमन ऐसा नहीं होता। यह लक्षण तभी होते हैं जब किसी ने मुंह दबाया हो अथवा फांसी लगाकर जान दी हो। अब पुलिस आईएएस के लोअर में मिले पैच की फोरेंसिक जांच कराने की तैयारी कर रही है।

ये भी पढ़े: अभी अभी: सहारनपुर में फिर भड़की हिंसा, सीएम योगी ने भेजी पूरी टीम

अनुराग को मरते हुए देखने वाला कोई व्यक्ति पुलिस को अब तक भले न मिला हो लेकिन एक-एक करके ऐसे साक्ष्य सामने आ रहे हैं जिससे उनकी हत्या की आशंका पुख्ता होती जा रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उनके चेहरे व निचले होंठ के भीतर चोट मिलने तथा दम घुटने से मौत की पुष्टि की गई है। हालांकि, पुलिस और फोरेंसिक लैब के कुछ विशेषज्ञों ने नाक व मुंह में खून भरा होने के कारण दम घुटने की बात कहकर मामला रफा-दफा करने का पूरा प्रयास किया।

 

चिकित्सकों ने उनके अंदाजों की धज्जियां यह कहकर उड़ा दीं कि शव औंधे मुंह पड़ा था और नाक व मुंह से खून निकलकर सड़क पर गिर चुका था। अगर वह पीठ के बल पड़े होते तो एक बार सोचा जा सकता था कि सांस नली में खून भरने से उनका दम घुट गया होगा। फोरेंसिक लैब के एक्सपर्ट्स को आईएएस के लोअर में मिला करीब दस सेंटीमीटर का एक पैच परेशान कर रहा था। शुरुआती जांच में स्पष्ट हुआ कि पैच दरअसल यूरीन का है। यानी मौत के दौरान उनका यूरीन छूट गया था।

सूत्रों का कहना है कि धुएं के कारण दम घुटने, गले व सांस की नली में कुछ फंसने अथवा अन्य वजहों से दम घुटने पर ऐसा नहीं होता। पुलिस अधिकारी इस बिंदु पर चिकित्सकों और विशेषज्ञों से मश्विरा कर रहे हैं।

 

घुटने के पास पड़ी थी बाएं पैर की चप्पल
आईएएस अफसर जब सड़क पर पड़े थे तो उनके बाएं पैर की चप्पल उतरी हुई थी। यह चप्पल घुटने के पास पड़ी थी। दाएं पैर की चप्पल उनके पैर में ही थी। वह बीच सड़क पर तिरछा पड़े हुए थे। यह परिस्थितियां उन्हें किसी वाहन से सड़क पर फेंकने की तरफ इशारा कर रही हैं।पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आई चोटें भी कुछ ऐसी हैं जिससे उन्हें किसी वाहन में मारने की आशंका लग रही है। उनके बाएं हाथ की कलाई पर चोट, दाएं पैर के घुटने पर चोट, बाएं गाल पर खरोंचे और निचले होंठ के भीतर लगी चोट से ऐसा लग रहा है कि किसी ने पीछे से उनकी बाईं कलाई पकड़ी और मुंह दबा दिया। बचने की कोशिश में उनके निचले होंठ का भीतरी हिस्सा कट गया।

पुलिस और फोरेंसिक एक्सपर्ट्स का मानना था कि गिरने से निचला होंठ दातों के बीच दबकर कट गया जबकि पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सकों का मत है कि अगर गिरने से होंठ भीतर से कट सकता है तो बाहर भी चोटें आनी चाहिए थीं।

 

मौत की कड़ियां जोड़ेगी पुलिस
अनुराग तिवारी की हत्या की एफआईआर दर्ज होने के बाद हजरतगंज पुलिस कड़ियां जोड़ने में जुट गई है। आईएएस के बंगलुरू में फूड एंड सिविल सप्लाई डिपार्टमेंट में घोटाले की शिकायत, मसूरी स्थित प्रशासनिक अकादमी में ट्रेनिंग, ट्रेनिंग के बाद नौ मई को लखनऊ में दो दिन ठहरने और फिर बहराइच में अपने घर जाने तथा रविवार 14 मई को फिर लखनऊ आकर एलडीए वीसी पीएन सिंह के साथ स्टेट गेस्टहाउस में उनके कमरे में ठहरने, मंगलवार रात आर्यन रेस्टोरेंट में डिनर के बाद गेस्टहाउस आने और बुधवार सुबह करीब छह बजे सड़क पर शव मिलने से लेकर हर छोटी से छोटी कड़ी को खंगाला जा रहा है। परिवारीजनों के आरोपों की अलग से पड़ताल की तैयारी हो रही है। इंस्पेक्टर आनंद कुमार शाही का कहना है कि परिवारीजनों से जल्द संपर्क किया जाएगा।
 
Loading...

Check Also

उत्तर प्रदेश: बैंक के कर्ज से परेशान होकर किसान ने की खुदकशी

उत्तर प्रदेश: बैंक के कर्ज से परेशान होकर किसान ने की खुदकशी

जिले के घाटमपुर के साढ़ चौकी क्षेत्र के गांव कोरथा में एक किसान का शव …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com