24 मई 2018 दिन गुरुवार का राशिफल और पञ्चांग : जानें कल क्या करना शुभ है…

आप सब का मंगल हो…

।। आज का पञ्चाङ्ग ।।

ऋतु-ग्रीष्म
माह-अधिकज्येष्ठ
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:18
सूर्यास्त-06:42
राहूकाल(अशुभ समय) – दोपहर 01:30 से03:00
पक्ष-शुक्ल
तिथि-दशमी
दिशाशूल- दक्षिण
शुभदिशा- उत्तर
अमृतमुहूर्त-दोपहर 02:00 से 03:30 तक

।। आज का राशिफल ।।

मेष:-आज का दिन सामान्य रहेगा दाम्पत्य जीवन सुखमय रहेगा। सरकारी कार्यों में भी धीरे धीरे अनुकूलता आएगी। आर्थिक पक्ष पहिले से बेहतर होगा।
सुझाव:-आज आप मिट्टी के घड़े का दान करें।
राशिरत्न:- मूँगा

22 मई 2018 दिन मंगलवार का राशिफल एवं पंचांग: जानिए आज किसपर कृपा होगी बजरंगबली की
वृषभ:- आज का दिन व्यवसायिक दृष्टिकोण से बेहतर होगा। किन्तु पारिवारिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है। जीवन साथी का साथ मिलेगा। रिश्तेदारों से अनबन व आध्यत्मिक रुचि की ओर रुझान होगा।
सुझाव:-आज आप किसी पवित्र नदी में 2 दीप दान करें।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन:-आज का दिन आपके लिए अहम दिन साबित हो सकता है, विशेष कर शिक्षा के क्षेत्र में । व्यवसायिक प्रतिष्ठा की आज निश्चिततः वृद्धि होगी। धनागमन भी परिश्रम के अनुकूल रहेगा।
सुझाव:-आज सेव का दान किसी बच्चे को करें।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क:-आज के दिन कर्क राशि के जातकों के व्यवसायिक क्षेत्र के लिए उत्तम नहीं है। धनागमन सामान्य रह सकता है, किंतु पारिवारिक सहयोग से कुछ हद तक रुके कार्यों में गति आएगी। यात्रा के सुखद योग है किंतु शैक्षिक क्षेत्र में सफलता मिलेगी।
सुझाव:-आज आप सवा पाव मसूर की दाल का दान करें।
राशिरत्न:-मोती

सिंह:-आज आपका व्यापार उत्तम रहेगा , किंतु कर्ज की अधिकता आपको चिंतित कर सकती है।स्वजनों का सहयोग मिलेगा। यात्रा स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकती है। कृषिकार्यों में सामान्य लाभ मिलेगा।
सुझाव:-आज आप लाल रंग की चूनर मा दुर्गा को अर्पित कर किसी छोटी कन्या को दें।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या:-आज के दिन आपका व्यापर सामान्य रहेगा। उपहार व सम्मान भी मिल सकता है। धार्मिक आयोजनों में हिस्सा ले सकेंगे । संतान सुख मिलेगा। यात्रा से हानि हो सकती है।कृषि कार्यों में लाभ की संभावना बनती दिख रही है।
सुझाव:-आज आप ताँबें की वस्तु दान करें।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला:-आज तो आप का उत्तमोत्तम दिन है, एक प्रकार से भाग्योदय का दिन समझे। किसी बड़ी बीमारी से काफी हदतक निज़ाद मिल सकता है। धन में वृद्धि का योग बन रहा है। सुदूर यात्रा से प्रतिष्ठा मिलेगी सामाजिक कार्यों से लाभ मिलेगा।
सुझाव:-आज आप किसी विद्यार्थी को लेखनी का दान करें।
राशिरत्न:-हीरा, ओपल

वृश्चिक:-आज आप का व्यापार मन्द रह सकता है, परिश्रम के सापेक्ष फल की प्राप्ति में संदेह बना रह सकता है।दूसरों के कार्यों में अड़चनें न डालें एवं वाणी पर संयम जरूर रखें ।यात्रा से सामान्य लाभ की संभावना है।
सुझाव:-आज आप अपने गुरु की यथा संभव सेवा करें।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु:-आज आप का दिन कुल मिला कर उतार चढ़ाव भरा रहा सकता है।व्यक्ति विशेष से कहा सुनी से बचें व स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।न आज उधार लें न दें । पारिवारिक वातावरण सामान्य रहेगा। शायं काल तक शुभ सूचना मिल सकती है।
सुझाव:-आज आप गजेन्द्रमोक्ष स्त्रोत्र का 1 पाठ जरूर करें या दान करें।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर:-आज आपका दिन मांगलिक कार्यों की ओर उन्मुख रहेगा। अतिथियों का आओभगत होगा। धार्मिक कारों में धन का सदुपयोग हो सकता है। व्यापर उत्तम रहेगा। चित्त की प्रसन्नता बनी रहेगी।
सुझाव:-आज आप दूध का दान करें।
राशिरत्न:-नीलम

कुंभ:-आज आपकी व्यवसायिक वृद्धि होगी। बड़ा मुनाफा सम्भव है। पूजीं निवेश का शुभ दिन आज साबित हो सकता है।धनागमन के साथ साथ प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
पारिवारिक माहौल उत्तम रहेगा।
सुझाव:-आज आप भगवान श्री गणेश को गुलाब का फूल य्या माला अर्पित करें।
राशिरत्न:-नीलम

मीन:-आज आप को शासन सत्ता से लाभ मिलेगा। रुके कार्य द्रुत गति से आगे बढ़ेगें।
पारिवारिक सहयोग से धनागमन व प्रतिष्ठा मिलेगी। व्यापार में उत्तमता बनी रहेगी। चापलूसों से सावधान रहें।यात्रा समान्य लाभ देगी।
सुझाव:-आज आप भगवान शिव को शहद अर्पण करें।
राशिरत्न:-पुखराज

।। आज के दिन का विशेष महत्व ।।
1. आज ग्रीष्मऋतु अधिकज्येष्ठमाह शुक्लपक्ष दशमी तिथि गुरुवार है।

।। प्रेरणादाई चौपाई ।।
तुम्हहि छाड़ि गति दूसर नाहीं।
राम बसहु तिन्ह के मन माहीं।।

अर्थ:-महर्षि वाल्मीकि जी कहते हैं कि हे राम जो मनुष्य सब के प्यारे हैं, और सबकी भलाई चाहने वाले है,और जो दुःख सुख में बराबर रहते हैं प्रशंसा व गाली जिनको समान लगती है। जो सत्य व प्रिय वचन विचार कर बोलते हैं, जो जगते सोते हमेशा आपकी शरण मे रहते है आपको छोड़ कर जिसकी कोई और गति नहीं है आप उनके हृदय में निवास करो।

।। वास्तु टिप ।।
यदि शयन कक्ष में पलंग दक्षिण की दीवार से सटकर हो तो बड़ा कल्याणकारी होता है।

।। इति शुभम् ।।
।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद, वास्तुविद व सरस कथा व्यास।।
।।श्री अयोध्याधाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

वैज्ञानिकों का दावा, बहुत जल्द इस तकनीक से पूरी दुनिया से गायब हो जाएगी मच्छरों की फौज

दुनिया के लिए सबसे बड़ी समस्याओं में से