हरियाणा में पूरे दमखम के साथ हुड्डा शुरू करेंगे जनक्रांति रथयात्रा का दूसरा चरण

चंडीगढ़/नई दिल्ली। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा जनक्रांति रथयात्रा का दूसरा चरण पूरे दमखम के साथ शुरू करेंगे। 3 जून को इसकी शुरुआत पर पानीपत के समालखा में बड़ी रैली होगी। इसकी तैयारियों लिए बृहस्पतिवार को हुड्डा ने नइ्र दिल्‍ली में अपने 9 पंत मार्ग स्थित आवास पर जुटे पानीपत और करनाल जिला के कांग्रेस कार्यकर्ताओं में पूरा जोश भरा।हरियाणा में पूरे दमखम के साथ हुड्डा शुरू करेंगे जनक्रांति रथयात्रा का दूसरा चरण

समालखा के पूर्व विधायक धर्मसिंह छौक्कर, सुमिता सिंह, अशोक कश्यप अन्य नेताओं और एकता शक्ति पार्टी के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र मराठा ने हुड्डा को विश्वास दिलाया कि समालखा  में जनक्रांति रथयात्रा का आगाज होडल रैली से भी ज्यादा जोशीला होगा। हुड्डा ने पैर में फ्रेक्चर के कारण 25 फरवरी को होडल में रैली के बाद रथयात्रा स्थगित कर कर दी थी। अब वह फिर से रथ पर सवार होंगे।

वह अगले छह माह तक प्रदेश भर का दौरा करेंगे। करनाल लोकसभा क्षेत्र के सभी विधानसभा क्षेत्रों में रोड-शो और जनसभाएं करने के बाद जनक्रांति रथयात्रा का अगला पड़ाव अंबाला, पंचकूला और यमुनानगर में रहेगा। इसके लिए हुड्डा ने 19 मई को चंडीगढ़ में इन तीनों जिलों के कार्यकर्ताओं को बुलाया है।

दिल्ली में अपने आवास पर हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार ने चुनाव के समय किए 154 वायदों में से एक भी पूरा नहीं किया। इस कारण प्रदेश का किसान, मजदूर, व्यापारी, कर्मचारी और युवा वर्ग सरकार से परेशान है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में प्रजातंत्र का गला घोंटने का प्रयास हुआ है। अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संविधान की रक्षा करने और प्रजातंत्र को बचाने की हर लड़ाई के लिए तैयार रहना होगा।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप शर्मा ने कहा कि होडल रैली की चर्चा दिल्ली तक थी, इसी तरह समालखा रैली की चर्चा भी दूर तक जाएगी। सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा की जनता अगले चुनाव में भाजपा का सफाया कर देगी। कार्यकर्ताओं ने इस मौके पर हाथ उठाकर कर्नाटक में प्रजातंत्र को कुचलने के लिए भाजपा के खिलाफ निंदा प्रस्ताव भी पारित किया।

कांग्रेस हाईकमान तक संदेश पहुंचाने को है दिल्ली में हुड्डा की सक्रियता

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने होड़ल जनक्रांति रैली के लिए भी दिल्ली में ही पलवल व फरीदाबाद जिला के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन किया था। इसके बाद अब उन्होंने रामलीला मैदान में कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष की जनाक्रोश रैली के लिए भी दिल्ली में ही प्रदेश कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई थी। अब समालखा में जनक्रांति रैली के लिए भी पानीपत व करनाल के कार्यकर्ताओं को हुड्डा ने दिल्ली ही बुलाया।

राजनीतिक जानकार इसके पीछे हुड्डा की बड़ी रणनीति मान रहे हैं। हरियाणा के विभिन्न जिलों से बड़ी संख्या में इन रैलियों को सफल बनाने के लिए कार्यकर्ताओं व प्रमुख नेताओं की उपस्थिति दिखाकर हुड्डा कांग्रेस हाईकमान को भी अपनी राज्य कांग्रेस में पॉपुलर लीडरशिप दर्शाना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी: बहराइच में अब तक 70 से अधिक बच्चों की मौत, देखने पहुंचे डॉ. कफील खान अरेस्ट

उत्तर प्रदेश के बहराइच में संक्रमण के साथ