‘जो बोले सो निहाल’ के जयकारों के बीच खुले हेमकुंड साहिब के कपाट

- in उत्तराखंड

आज से हेमकुंड साहिब की चढ़ाई पर वाहे गुरु के जयकारों से चढ़ाई गूंज उठी है। देश-विदेशों से हजारों श्रद्धालु यहां अपने दसवें गुरु गोबिंद सिंह की तपस्थली में माथा टेकने पहुंच रहे हैं।'जो बोले सो निहाल' के जयकारों के बीच खुले हेमकुंड साहिब के कपाट

इससे पहले यात्रा के पहले पड़ाव गोविंदघाट गुरुद्वारे में सबद कीर्तन के बाद पंच प्यारों की अगुवाई में जत्था हेमकुंड साहब पहुंचा। 4500 मीटर की उंचाई पर स्थित हेमकुंड साहिब के साथ ही आज लोकपाल लक्ष्मण मंदिर के कपाट भी खोले गए।

बता दें कि हेमकुंड साहिब गोविन्दघाट से 21 किलोमीटर की खड़ी चढ़ाई पर स्थित है। हेमकुंड से 6 किलोमीटर नीचे घांगरिया नामक स्थान पड़ता है, जहां यात्री रात्री विश्राम कर हेमकुंड पहुंचते हैं। हेमकुंड गुरुद्वारे के बगल में आधा किलोमीटर की परिधि में फैला एक विशाल हिम सरोवर है। सिख यात्री इस ठंडे हिम सरोवर में स्नान कर गुरुद्वारे में मत्था टेककर मन्नत मांगते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

राफेल डील पर राहुल गांधी के बयान में सीएम रावत का पलटवार, कहा ‘उन्होंने पढ़ी गलत स्क्रिप्ट’

राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति के