हरियाणा में बढ़ रहा कैंसर का साया, सरकार लेगी इस कंपनी की मदद

- in राज्य, हरियाणा

चंडीगढ़। हरियाणा में कैंसर की बीमारी का साया तेजी से बढ़ रहा है। इससे निपटने के लिए राज्‍य सरकार सक्रिय हो गई है। इसके लिए मनोहरलाल सरकार अब निजी क्षेत्र का सहारा लेगी। हिसार के अग्रोहा मेडिकल कालेज में कैंसर अस्पताल खोलने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने टाटा मेमोरियल अस्पताल को प्रस्ताव भेजा है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने योजना को सिरे चढ़ाने के लिए महकमे के शीर्ष अफसरों की ड्यूटी लगाई है। अच्छी बात ये कि टाटा ग्रुप ने भी सरकार के प्रस्ताव को सकारात्मक रिस्पांस दिया है।हरियाणा में बढ़ रहा कैंसर का साया, सरकार लेगी इस कंपनी की मदद

हिसार में कैंसर अस्पताल खोलने के लिए टाटा ग्रुप को भेजा प्रस्ताव, योजना सिरे चढ़ाने में लगे अफसर

प्रदेश में फिलहाल 20 हजार से अधिक कैंसर रोगी हैं जिन्हें बेहतर इलाज के लिए दिल्ली सहित दूसरे राज्यों का रुख करना पड़ता है। सरकारी स्तर पर झज्जर के बाढ़सा में राष्ट्रीय कैंसर संस्थान की परियोजना जल्द सिरे चढऩे वाली है। 32 एकड़ पर 2035 करोड़ में बनने वाले इस संस्थान से झज्जर, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी सहित पूरे दक्षिणी हरियाणा को फायदा होगा।

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में कैंसर अस्पताल बनने पर गरीबों का मिलेगा मुफ्त इलाज

इसी तरह अंबाला छावनी में 23 जुलाई को 50 बेड के कैंसर टर्सरी सेंटर का भूमि पूजन होने जा रहा है। इस कैंसर अस्पताल के बनने से यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, करनाल, पानीपत सहित उत्तर हरियाणा के लोगों को फायदा होगा। उत्तर और दक्षिण हरियाणा में कैंसर अस्पताल के प्रोजेक्ट बनने के बाद हिसार, सिरसा, फतेहाबाद, जींद और साथ लगते क्षेत्रों के कैंसर मरीजों के लिए इस जोन में कैंसर इंस्टीट्यूट की जरूरत महसूस की जा रही थी। कैथल के राजौंद से लेकर सिरसा तक कैंसर का जबरदस्त प्रकोप है जबकि इसके इलाज की कोई पुख्ता व्यवस्था नहीं है।

यही वजह है कि मुंबई में देश का सबसे प्रतिष्ठित कैंसर अस्पताल चला रहे उद्योगपति रतन टाटा ने पिछली दीपावली पर हरियाणा में कैंसर अस्पताल खोलने की इच्छा जताई तो प्रदेश सरकार ने तुरंत हिसार के अग्रोहा मेडिकल कॉलेज का नाम आगे बढ़ा दिया।

पांच साल में सात हजार लोगों को कैंसर

खेती में उर्वरकों और कीटनाशकों के अंधाधुंध इस्तेमाल और आरामदेह जीवन शैली के चलते पिछले पांच साल में ही प्रदेश में करीब सात हजार नए लोग कैंसर की चपेट में आ गए। मृतकों की संख्या भी दोगुनी तक जा पहुंची। महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर, जबकि पुरुषों में फेफड़ों और गले का कैंसर तेजी से बढ़ रहा है।

हरियाणा में कैंसर पीडि़त

वर्ष             मरीज             मौतें

2013       11,717          1845

2014       11,776          2715

2015       13,697          3317

2016       16,180          3668

2017       19,385          3987

टाटा मेमोरियल ट्रस्ट को भेजा प्रस्ताव : विज

” कैंसर रोगियों को इलाज की उच्च स्तरीय सुविधाएं दिलाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। झज्जर के बाढ़सा और अंबाला छावनी में कैंसर अस्पताल की परियोजना पूरी होने के बाद लोगों को प्रदेश में ही बेहतर इलाज मिलेगा। हिसार के अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में कैंसर अस्पताल बनाने के लिए हमने टाटा मेमोरियल ट्रस्ट को प्रस्ताव भेजा है जिस पर सकारात्मक जवाब मिला है। स्वास्थ्य विभाग के अफसर समझौते को सिरे चढ़ाने में लगे हैं। उम्मीद है कि जल्द ही इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू होगा।

                                                                                          – अनिल विज, स्वास्थ्य मंत्री, हरियाणा।

कई अन्य प्रदेशों में भी कैंसर अस्पताल खोल रहे हैं टाटा

टाटा मेमोरियल अस्पताल अब देश के बाकी शहरों में भी कैंसर रिसर्च इंस्टीट्यूट खोल रहा है। मुंबई स्थित टाटा मेमोरियल अस्पताल देश का सबसे अच्छा कैंसर अस्पताल माना जाता है। अब तक जिन नए राज्‍यों में कैंसर अस्पताल खोलने की घोषणा की गई है उनमें झारखंड, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, असम और आंध्र प्रदेश जैसे राज्य शामिल हैं। रतन टाटा पिछले वर्ष दीपावली के ठीक पहले इसकी घोषणा कर चुके हैं। वाराणसी स्थित पूर्वोत्तर रेलवे का कैंसर संस्थान और शोध केंद्र का भी टाटा संस्थान ने अधिग्रहण कर लिया है। अब टाटा मेमोरियल इसे अत्याधुनिक कैंसर अस्पताल के रूप में विकसित करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या मामले में इसी हफ्ते आ सकता है ये बड़ा फैसला

अयोध्या राम जन्मभूमि मामले से जुड़े एक अहम केस में