देश में तबाही की और बढ़ रहा हैं कोरोना का डेल्टा प्लस वैरिएंट, सामने आई ये चौका देने वाली रिपोर्ट…

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का प्रकोप कम होने के बाद अब कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट ने देश में पैर पसारने शुरू कर दिए हैं. 

जम्मू में डेल्टा प्लस वैरिएंट का पहला मामला सामने आने के बाद राज्य में हड़कंप मच गया है. कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट को इसके खतरनाक वैरिएंट्स की श्रेणी में रखा गया है. 

जम्मू में डेल्टा प्लस वैरिएंट का पहला मामला आया सामने 

जम्मू में डेल्टा प्लस वैरिएंट का पहला मामला सामने आया है. तालाब तिल्लो निवासी 30 वर्षीय एक व्यक्ति में डेल्टा प्लस वैरिएंट की पुष्टि हुई है. यह व्यक्ति 15 मई को कोरोना संक्रमण से संक्रमित पाया गया था. उसकी जांच के सैंपल को एनसीडीसी नई दिल्ली भेजा गया था. जिसके बाद व्यक्ति के भीतर डेल्टा प्लस वैरिएंट होने की पुष्टि हुई है. 

भारत में अभी तक डेल्टा प्लस वैरिएंट के लगभग 40 मामले सामने आ चुके हैं. देश के महाराष्ट्र, केरल, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और जम्मू-कश्मीर में डेल्टा प्लस वैरिएंट से जुड़े मामले सामने आए हैं. 

मध्य प्रदेश के उज्जैन में डेल्टा प्लस वैरिएंट संक्रमित एक मरीज की मौत

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस स्वरूप से दो लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है जिनमें से एक महिला की 23 मई को मौत हो चुकी है. यह जानकारी जिला प्रशासन ने बुधवार को दी.

अधिकारी ने बताया, ‘‘महिला मरीज की मौत पाटीदार अस्पताल में 23 मई को कोरोना वायरस से हुई थी. उसके नमूने को 14 अन्य लोगों के नमूनों के साथ अनुवांशिकी अनुक्रमण के लिए भोपाल स्थित प्रयोगशाला भेजा गया था. इन 15 नमूनों में से दो लोगों में डेल्टा प्लस के संक्रमण की पुष्टि हुई.’’

हालांकि, जिला प्रशासन ने यह नहीं बताया कि नमूनों की अनुवांशिकी अनुक्रमण की रिपोर्ट कब मिली. प्रशासन ने कहा कि इन दोनों मरीजों के संपर्क में आए 21 लागों की आरटी-पीसीआर जांच की गई लेकिन कोई कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं मिला.
उज्जैन के कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा कि डेल्टा प्लस से जिले में खतरा नहीं है लेकिन लोगों को एहतियातों का अनुपालन करना चाहिए.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button