दिल्ली पर मंडराया बिजली संकट, कभी भी हो सकता है ब्लैक आउट : ऊर्जा मंत्री

- in दिल्ली

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली अंधेरे में डूब सकती है, यह जानकारी दी है आम आदमी पार्टी सरकार में ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने, उन्होंने कहा है कि दिल्ली के बिजली संयंत्रों के पास एक दिन से ज्यादा की खपत के लिए कोयले का आरक्षित भंडार नहीं है. इसलिए उन्होंने दिल्ली में ब्लैक आउट की आशंका जताई है. इस भीषण गर्मी में बिजली का न होना दिल्ली वालों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है.दिल्ली पर मंडराया बिजली संकट, कभी भी हो सकता है ब्लैक आउट : ऊर्जा मंत्री

इससे पहले ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र ने 17 मई को केंद्रीय कोयला मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर उन्हें कोयले की कमी के बारे में अवगत कराया था, लेकिन पियूष गोयल की तरफ से कोई जवाब नहीं आया. गौरतलब है कि , दिल्ली को कोयले से चलने वाले थर्मल जनरेटिंग स्टेशनों दादरी, झज्जर और बदरपुर से 2325 मेगावाट बिजली मिलती है और मौजूदा समय में 1355 मेगावाट ही बिजली मिल पा रही है. अगर कोई पावर प्लांट बंद हो जाता है तो फिर दिल्ली-एनसीआर में हालात खराब हो सकते हैं.

सत्येंद्र जैन के मुताबिक डिस्कॉम की ओर से दिल्ली सरकार को पावर प्लांट में कोयले के स्टॉक की कमी के बारे में लगातार जानकारी दी जा रही है, जैन ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि बढ़ती गर्मी के साथ बिजली की डिमांड बढ़ रही है और तुरंत जरूरी कदम उठाए जाने की जरूरत है, नहीं तो देश की राजधानी दिल्ली अंधेरे में डूब जाने को मजबूर हो जाएगी. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

RSS प्रमुख मोहन भागवत ने हिंदुत्व को लेकर कहा- मुस्लिम के बिना अधूरा है हिंदू राष्ट्र

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के संघचालक