पाकिस्तान: आतंकी हाफिज सईद के बेटे पर भी आतंकवादी हमले का खतरा

पाकिस्तान के राष्ट्रीय आतंकवाद रोधी प्राधिकरण (नैक्टा) ने उन छह नेताओं के नाम का खुलासा किया है जिन्हें चुनाव प्रचार के दौरान आतंकवादी निशाना बना सकते हैं. इन नेताओं में जमात-उद दावा के मुखिया और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड आतंकी हाफिज सईद के बेटे का नाम भी शामिल है.पाकिस्तान: आतंकी हाफिज सईद के बेटे पर भी आतंकवादी हमले का खतरा

नैक्टा (NACTA) निदेशक ओबेद फारुख ने बीते सोमवार को सीनेट की स्थाई समिति को संबोधित करते हुए बताया कि इन छह नेताओं में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान, अवामी नेशनल पार्टी के नेता असफंदियार वली और अमीर हैदर, कौकमी वतन पार्टी के प्रमुख अफताब शेरपाओ, जमियत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल के नेता अकरम खान दुर्रानी और हाफिज सईद के बेटे तल्हा सईद शामिल हैं.

हाफिज सईद का बेटा तल्हा अल्लाह-हू अकबर पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहा है. तल्हा नेशनल असेंबली सीट 91 से उम्मीदवार है. ये पार्टी जमात-उद दावा के समर्थन से ही चुनाव लड़ रही है. यानी पाकिस्तान चुनाव में आतंकियों के परिवार वाले भी आतंकी हमले की चपेट में बताए जा रहे हैं.

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के वरिष्ठ नेतृत्व पर भी खतरा बताया गया है. नैक्टा ने इन 12 थ्रेट अलर्ट से संघीय प्रांतीय और प्रांतीय गृह मंत्रालयों को फेडरल इंटीरियर और प्रांतीय गृह मंत्रालयों के साथ-सा कानून प्रवर्थन एजेंसियों को वाकिफ करा दिया है.

सुरक्षा बढ़ाने की अपील

समिति के चेयरमैन सीनेटर रहमान मलिक ने गृह मंत्रालय को उन लोगों को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया जिन्हें खतरा है.  उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चुनाव आयोग के सचिव बाबर याकूब ने समिति को पहले ही सूचित कर दिया था कि 25 जुलाई को होने वाले आम चुनावों के दौरान हिंसा भड़क सकती है इसलिए इस अलर्ट को गंभीरता से लिए जाने की जरूरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

नवाज शरीफ की मुश्किलें बढ़ीं, पार्टी नेता हनीफ अब्बासी को उम्रकैद

पाकिस्तान की एक मादक पदार्थरोधी अदालत ने पाकिस्तान