… इसलिए विराट से डरने की जरुरत!

विराट ने वर्ल्ड क्रिकेट के हर कोने, हर पिच पर रन बरसाए हैं. बस इंग्लैंड ही एक ऐसी जगह है जहां टेस्ट सीरीज में विराट कोहली का बल्ला अब तक खामोश रहा है. इस बार विराट इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में रन बनाने के इरादे के साथ उतरेंगे और उसमें कामयाब भी होते दिख सकते हैं, जिसके संकेत उन्होंने प्रैक्टिस मैच में रन बनाकर दे दिए हैं. विराट ने एसेक्स के खिलाफ खेले अभ्यास मैच की पहली पारी में 93 गेंदों पर 68 रन की पारी खेली थी, जिसमें 12 चौके शामिल रहे थे.

विराट के निशाने पर इंग्लैंड

साफ है टेस्ट सीरीज से पहले विराट के बल्ले को रनों के जिस स्वाद की जरुरत थी, वो उसने चख लिया है. अब उनका फोकस इंग्लैंड में अपने खराब रिकॉर्ड को दुरुस्त करने पर होगा, जहां उन्होंने 5 टेस्ट की 10 पारियों में अब तक 13.50 की मामूली औसत से सिर्फ 131 रन बनाए हैं. इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज रहे ग्राहम गूच के मुताबिक, “हर बल्लेबाज चाहता है कि वह उस तरह के खिलाड़ी के रूप में जाना जाए जो पूरे विश्व में अच्छा खेलता है.” विराट कोहली को अपनी ऐसी पहचान कायम करने के लिए बस इंग्लैंड का मैदान मारना है.