वाराणसी में योगी आदित्यनाथ ने कहा- समर्थन उसे दें जो विकास करे

भदोही: बतौर सीएम पहली बार कालीन नगरी पहुंचे योगी आदित्यनाथ रविवार को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर विपक्ष की घेरेबंदी करते हुए भाजपा के लिए समर्थन जुटाते नजर आए। बोले, जो आपका विकास करे, आपको सुरक्षित वातावरण दे और भेदभाव रहित योजनाओं का लाभ पहुंचाने में जुटी हो, उस भाजपा की सरकार को समर्थन दें।वाराणसी में योगी आदित्यनाथ ने कहा- समर्थन उसे दें जो विकास करे

भदोही के कार्पेट एक्सपो मार्ट में आयोजित समारोह में सीएम ने विभिन्न योजनाओं से जुड़े 1025 लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किया। साथ ही करीब 84 करोड़ की 106 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। योगी बोले आपका के जिला हस्त निर्मित कालीन के जरिए विश्व विख्यात है। केंद्र और राज्य की सरकार कालीन उद्योग और कारीगरों को बढ़ावा देने के लिए हर संभव मदद में जुटी है। हमारी सरकार हुनर का सम्मान करती है।

सीएम ने कहा कि काग्रेस के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष 55 वर्ष और सपा-बसपा के कार्यकाल में जितना कार्य नहीं हुआ उससे अधिक विकास मोदी के चार वर्ष की सरकार में हो चुका है। किसानों, गरीबों, महिलाओं और युवाओं के विकास के लिए सरकार लगातार काम कर रही है। पहले की सरकारें जाति और परिवार देख कर विकास करती थीं या योजनाओं का लाभ पहुंचाती थीं, अब हमारी सरकार बिना किसी भेदभाव के पात्र लोगों तक ये योजनाएं पहुंचा रही है। विकास से ही परिवर्तन संभव है इसलिए जातिवाद और परिवारवाद की संकीर्ण मानसिकता से उबरना होगा।

योगी ने हैरानी जताई कि भाजपा पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाया जाता है। बोले, अब तक इस तबके के लिए जीरो कार्य करने वाले ऐसा आरोप लगा रहे हैं। पूर्व की ऐसी पार्टियों की सरकारों ने जितना नहीं किया उससे अधिक दलितों की चिंता भाजपा की सरकार केंद्र व राज्य के माध्यम से कर रही है। इसलिए भाजपा को जनता का समर्थन मिलना चाहिए। हम ये नहीं देखते कि आप ने हमे वोट दिया या नहीं दिया, हम सभी का समान भाव से विकास करने में जुटे हैं।

सीएम ने कहा कि पहले नौकरिया जाति व जिला विशेष के लिए आती थीं, उसमें भी रुपए लिए जाते थे। हम बड़ी संख्या में भर्तिया शुरू करने जा रहे है। भर्ती से जुड़े सभी आयोग को कह दिया है कि योग्यता और मेरिट के आधार पर ही भर्ती हो। भर्तियों में भ्रष्टाचार हुआ तो जेल जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

स्वच्छ्ता अभियान में जूट के बैग बांट रहे डॉ.भरतराज सिंह

एसएमएस, लखनऊ के वैज्ञानिक की सराहनीय पहल लखनऊ