दोस्ती ने फिर ली एक जान, हथौड़े से सिर पर किये कई वार

- in अपराध

दिल्ली में एक स्टूडेंट की किडनैप कर हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. मृत छात्र के घरवालों का आरोप है कि पालम थाने की पुलिस की लापरवाही के चलते ही उनके बच्चे की जान गई. इस बीच पुलिस ने हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने आरोपी की पहचान इश्तियाक के रूप में की है.पुलिस के मुताबिक, पूछताछ के दौरान इश्तियाक ने बताया कि कुछ ही समय पहले एक डेटिंग वेबसाइट के जरिए उसकी दिल्ली युनिवर्सिटी के रामलाल आनंद कॉलेज में बी.कॉम के स्टूडेंट आयुष नौटियाल से दोस्ती हुई थी. इसके बाद 10 दिन के अंदर उन्होंने तीन बार मुलाकात भी की.

हालांकि 22 मार्च को जब दोनों मिले तो उनके बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई. झगड़ा इतना बढ़ा कि इश्तियाक ने हथौड़े से आयुष के सिर पर कई वार कर दिए, जिससे आयुष की मौत हो गई. आयुष उसी दिन से लापता था. आयुष जब शाम तक घर नहीं लौटा तो उसके माता-पिता को चिंता हुई. हर जगह ढूंढने के बाद परिजनों ने पुलिस को खबर दी. इसी बीच आयुष के पिता दिनेश को व्हाट्सएप्प पर मैसेज आया, जिसमें आयुष की तस्वीर के साथ 50 लाख की फिरौती मांगी गई थी.

पंजाब: पाक के जासूसी नेटवर्क का भंडाफोड़, FB पर बिछा रहे हनीट्रैप

आयुष के पिता ने बताया कि तस्वीर में आयुष की शर्ट पर खून के धब्बे भी दिख रहे थे. तस्वीर सहित मैसेज मिलते ही परिवार वालों के पैरों तले जमीन खिसक गई. किडनैपर 50 लाख की फिरौती मांग रहा था और आयुष के परिवार से कॉन्टैक्ट करने के लिए आयुष का ही मोबाइल इस्तेमाल कर रहा था. इस बीच परिवार वालों ने 10 लाख रुपये फिरौती की रकम भी इकट्ठी कर ली.लेकिन किडनैपर आयुष के परिवार वालों को ग़ुमराह करता रहा. वह आयुष के पिता को इस बीच नजफगढ़ से लेकर वसंत कुंज तक घुमाता रहा. लेकिन कहीं कोई फिरौती की रकम लेने नहीं आया. इस दौरान कई बार पुलिस को किडनैपर की लोकेशन भी मिली, लेकिन पुलिस किडनैपर को दबोचने में असफल रही. आरोप है कि पुलिस की कार्रवाई ढीली रही. बाद में गुरुवार को द्वारका के सेक्टर 13 में आयुष की लाश मिली.

You may also like

तो इसलिए पति ने पत्नी से कह दी अपने पिता से संबंध बनाने की बात, सुनकर आ जाएंगे आंखों में आंसू

महिला का कहना है कि ससुर के साथ