बिहार बस में रखे RO फिल्टर बॉक्स में मिला कुछ ऐसा पुलिस वालों के उड़े होश

- in अपराध

नवादा।  बिहार में कड़े कानून के बाद भी शराब माफिया का धंधा छोडऩे का नाम नही ले रहा है। प्रतिदिन नए-नए तरकीब के जरिए दूसरे प्रदेश से शराब लाया जा रहा है। कुद ऐसा ही मामला शुक्रवार को वाहन जांच के दौरान समेकित जांच चौकी पर देखने को मिला। उत्पाद विभाग की टीम द्वारा झारखंड की ओर से आ रही यात्री बसों की जांच की जा ही थी।बिहार बस में रखे RO फिल्टर बॉक्स में मिला कुछ ऐसा पुलिस वालों के उड़े होश

इसी दौरान कोलकाता से आ रही वैशाली ट्रेवल्स यात्री बस की तलाशी ली जाने लगी। जांच में जुटे उत्पाद विभाग के जवानों ने जैसे ही एक बोरे को खोला तो देखा कि आरओ का फिल्टर बॉक्स है उसके बाद उसे छोड़ दिया। लेकिन साथी जवान के कहने पर उसका फिर से ढक्कन खोला गया तो आंख खुली की खुली रह गई। फिल्टर बॉक्स के अंदर विदेशी शराब का बोतल रखा हुआ था।

इधर उक्त बस की जांच चल ही रही थी कि पीछे से वैशाली नामक एक और यात्री बस पहुंच गई। वह भी कोलकाता से ही आ रही थी। जिसे जांच के लिए रोका गया। जाच की गई तो उसमें भारी मात्रा में देसी शराब का रैपर व विदेशी शराब का स्टीकर व तीन कार्टन विदेशी शराब बरामद हुआ।

दोनों बसों को तत्काल जब्त करते हुए चालक व उपचालक को हिरासत में ले लिया गया। सभी यात्रियों को दूसरी वाहन से भेज दिया गया। इस दौरान हजारीबाग से पटना जा रही भवानी यात्री बस की जांच के क्रम में तीन बैग में विदेशी शराब बरामद हुआ। पूछताछ में किसी भी यात्री ने इस बैग को अपना नही बताया। जिसके बाद बस के कंडक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया।

इस बारे में उत्पाद विभाग के एसआइ श्याम टुडू ने बताया कि कोलकाता से पटना जा रही  वैशाली यात्री बस संख्या बीआर 1 एपी 7127 से 180 किलो झारखंड निर्मित देशी शराब का रैपर व 10 किलो विदेशी शराब का स्टीकर व 180 एमएल टेट्रा ब्लैक के 45 डब्बा विदेशी शराब के साथ ही 750 एमएल रॉयल स्टैग का 40 बोतल विदेशी शराब बरामद किया गया। इस वाहन के चालक पटना जिला के कादिरगंज थाना क्षेत्र दौलताबाद निवासी पवन कुमार व उपचालक नालंदा जिला के लहेरी थानाक्षेत्र के बिहारशरीफ निवासी मो. जावेद उर्फ बुड्डू को गिरफ्तार किया गया।

वहीं कोलकाता से पटना जा रही एक अन्य वैशाली नामक यात्री बस संख्या बीआर 21 जी 6209 से ब्लैक नामक 500 एमएल के 45 बोतल विदेशी शराब जो कि आरओ के फिल्टर बॉक्स में छुपा कर ले जाया जा रहा था बरामद किया गया। इस मामले में यात्री बस के चालक पटना जिला के दनियावां थानाक्षेत्र के ततौरा निवासी अनिल राम व उप चालक आरा जिला के शहार थाना क्षेत्र के बरौनी निवासी रमेश कुमार राय को गिरफ्तार किया गया।

वहीं हजारीबाग से पटना जा रही भवानी यात्री बस से 750 एमएल के 30 बोतल विदेशी शराब के साथ बस के कंडक्टर हजारीबाग जिला के मंगलाबजार निवासी विजय दास को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार पांचों ब्यक्ति के विरुद्ध उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेज दिया गया है। इस कार्यवाई में उत्पाद विभाग के जवान शामिल थे।

नवादा में शराब पैकिंग की आशंका

-बता दें कि देसी शराब के रैपर व अंग्रेजी शराब का स्टीकर मिलने से इस आशंका को बल मिल रहा है कि नवादा में अवैध रूप से देसी-विदेशी शराब की पैङ्क्षकग का धंधा चल रहा है। वजह ये कि रैपर से भरे बोरे के ऊपर राजू नवादा का नाम अंकित था, जिससे इस आशंका को बल मिला है।

एक अधिकारी ने बताया कि अगर इतने रैपर में शराब बनाकर बेची जाती तो लगभग 5 लाख मूल्य की शराब होती। अब उत्पाद विभाग की टीम इस राजू नामक ब्यक्ति तक पहुंचने का जरिया तलाश कर रही है।

यात्री बसों की जब्ती पर निर्णय नहीं

-कोलकाता से पटना जा रही जिन दो बैशाली ट्रेवेल्स नामक बस से शराब, रैपर व स्टीकर की बरामदगी हुई है, उसे जब्त करना है या छोडऩा है इसपर निर्णय नहीं हो सका है। जांच अधिकारी ने बताया कि फिलहाल बस को रोककर रखा गया है। वरीय अधिकारी ही बस को जबत करने या छोडऩे का निर्णय लेंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चचेरे भाई ने मासूम के साथ किया दुष्कर्म

बनारस में एक गांव के पांच वर्षीय मासूम