पूर्व सांसद के करीबियोें ने युवक को मारी गोली, हालत गंभीर….

- in उत्तरप्रदेश
कैंट थाना क्षेत्र के बेली गांव में सोमवार शाम बाहुबली पूर्व सांसद के करीबियों ने मामूली विवाद में युवक को गोली मार दी। गोली कनपटी पर पर लगी। घरवाले उसे लेकर पहले बेली और फिर एसआरएन गए। वहां से गंभीर हालत में उसे बालसन स्थित निजी अस्पताल ले जाया गया। हालत में सुधार न होने पर रात में उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। म्योराबाद निवासी तीन भाइयों पर वारदात को अंजाम देने का शक जताया जा रहा है। पुलिस जांच में जुटी है।

पूर्व सांसद के करीबियोें ने युवक को मारी गोली, हालत गंभीर....

बेली गांव का रहने वाला तौसीफ अहमद उर्फ आरिफ (29) पुत्र मो. सादिक म्योराबाद चौराहे पर टेलर की दुकान चलाता है। पांच भाइयों में तौसीफ दूसरे नंबर का है। इसके अलावा शाकिब, आसिफ, उमर व फारुख उसके अन्य भाई हैं। शाकिब ने बताया कि दो-तीन दिन पहले उमर का घर से कुछ दूरी पर रहने वाले लड़कों से झगड़ा हो गया था। किसी तरह आसपास मौजूद लोगों ने मामला शांत करा दिया। सोमवार को एक बार फिर बच्चों का झगड़ा हो गया। जानकारी मिली तो सादिक बेटों तौसीफ, शाकिब व फारुख को लेकर बातचीत करने जा रहे थे। घरवालों का आरोप है कि अभी वह बेली बड़ी मस्जिद के पास स्थित पुलिया के करीब पहुंचे थे कि वहां म्योराबाद निवासी जुनैद, उबैद, फहद व एक अन्य असलहों से लैस होकर पहुंचे और गालीगलौच करने लगे। तौसीफ ने विरोध किया तो आरोपियों ने फायरिंग कर दी। एक गोली तौसीफ की कनपटी पर बांयी ओर जा धंसी और वह वहीं गिर पड़ा।

तब तक हमलावर गालियां देते हुए भाग निकले। घरवाले तौसीफ को लेकर पहले बेली और फिर एसआरएन अस्पताल पहुंचे। इस दौरान सूचना पर सीओ कर्नलगंज श्रीश्चंद्र भी फोर्स लेकर पहुंचे। हालत में सुधार न होने पर घरवाले तौसीफ को बालसन स्थित निजी अस्पताल ले गए। वहां इलाज तो शुरू हुआ, लेकिन उसकी हालत बिगड़ती चली जा रही थी। ऐसे में रात में उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। घरवाले उसे एंबुलेंस से लेकर रवाना हो गए। उधर देर रात मिली तहरीर के आधार पर पुलिस ने तीन लोगों को नामजद करते हुए रिपोर्ट दर्ज कर ली है। इंस्पेक्टर कैंट रमेश सिंह रावत ने बताया कि हमलावरों की तलाश में दबिश दी गई, लेकिन वह हाथ नहीं लगे। उनकी तलाश की जा रही है।

घटना में जिन लोगों को घरवालों ने नामजद किया है वह पर्व सांसद के करीबी पप्पू बेली के रिश्तेदार हैं। पप्पू बेली मरियाडीह में हुए अल्कमा-सुरजीत हत्याकांड में जेल में बंद है। घरवालों का आरोप है कि नामजद तीनों आरोपी भी पहले मरियाडीह में रहते थे। इधर कुछ सालों से यह म्योराबाद में आकर रहने लगे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

वाराणसी में ‘पूर्वाचल’ राज्य की मांग कर रही महिला ने बस में लगाई आग

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में ‘पूर्वाचल’ राज्य की मांग को लेकर