तेजप्रताप की पत्नी एेश्वर्या की राजनीति में पोस्टर से हुई एंट्री

पटना। राजद गुरुवार को अपना 22 वां स्थापना दिवस मना रहा है। स्थापना दिवस के लिए जारी हुए आमंत्रण पत्र में तेज प्रताप का नाम नहीं होने पर सियासत गर्म है, तो वहीं इसके लिए जारी पोस्टर को देखकर हर कोई हैरान है। इस पोस्टर में लालू प्रसाद की बहू एेश्वर्या राय की भी तस्वीर लगी है, साथ में तेजप्रताप यादव और मीसा भारती भी दिख रही हैं।तेजप्रताप की पत्नी एेश्वर्या की राजनीति में पोस्टर से हुई एंट्री

एेसा कहा जा रहा है कि राजद सप्रीमो लालू प्रसाद की बहू और तेज प्रताप की पत्नी ऐश्वर्या राय की भी राजनीति में एंट्री हो गई है। उन्होंने पोस्टर के माध्यम से राजनीति में एंट्री की है। लालू आवास के बार कई पोस्टर लगाए गए हैं। अमूमन इस तरह के पोस्टर पार्टी के कार्यक्रम से पहले दिख जाते हैं जिसपर लालू परिवार के सदस्यों समेत पार्टी के कुछ बड़े नेताओं के चेहरे होते हैं। मगर आज का पोस्टर काफी खास है। 

तेजप्रताप ने कहा था- मैं नहीं चाहता एेश्वर्या राजनीति में आएं

ये चौंकाने वाली खबर इसलिए कही जा सकती है क्योंकि इससे कुछ ही दिन पहले तेजप्रताप यादव ने कहा था कि मैं नहीं चाहता कि मेरी पत्नी एेश्वर्या राजनीति में आएं। इस बीच लालू परिवार के अंदरूनी हालात पर सबकी नजर है। क्योंकि तेजप्रताप ने फेसबुक पोस्ट पर अपने परिजनों के ही खिलाफ कई बातें लिखीं थीं। जिसे लेकर काफी हंगामा मचा था। जिसके बाद तेजप्रताप ने अपना फेसबुक एकाउंट हैक होने की बात भी कही थी।

तेजप्रताप के ट्वीट से मचा था पहले भी बवाल

ये पहली बार नहीं है, इससे पहले भी तेजप्रताप ने कहा था कि सोच रहा हूं कि हस्तिनापुर की सिंहासन अर्जुन को सौंपकर खुद द्वारिका चला जाऊं, उनके इस ट्वीट पर भी खूब घमासान मचा था। जिसके बाद राबड़ी  देवी अपने दोनों बेटों के साथ लालू प्रसाद यादव का जन्मदिन मनाने पहुंची और तेजप्रताप ने सबके सामने कहा  कि मेरी बातों का लोग बेवजह मतलब निकालते रहते हैं। 

पोस्टर में एेश्वर्या की भी तस्वीर

इस सियासी हलचल के बीच राजद के स्थापना दिवस के अवसर पर राबड़ी आवास के बाहर पोस्टर लगे हैं। पोस्टर में पहली बार तेज प्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या की तस्वीर दिख रही है। स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में भी एश्वर्या के शामिल होने की संभावना है।

आमंत्रण पत्र में नाम नहीं होने पर ये कहा तेजप्रताप ने

आमंत्रण पत्र में तेजप्रताप का नाम नहीं होने से एक बार फिर लोगों ने नए कयास लगाने शुरू कर दिए थे लेकिन इस मामले में तेज प्रताप ने कहा कि भाजपा और आरएसएस के लोग ये सब भ्रम फैला रहे हैं। हर पोस्टर-बैनर में मेरा फोटो लगा है। मैं कल पार्टी के कार्यक्रम में शामिल होउंगा। पार्टी हमारी है। दोनों भाई में किसी प्रकार का विवाद नहीं है। कल मैं फिर मंच से भगवान कृष्ण की तरह शंखनाद करूंगा। मेरा भाई अर्जुन है।

निमंत्रण पत्र में मेरा नाम रहे या न रहे क्या फर्क पड़ता है। पार्टी हमारी है और पार्टी में हमारे लोग हैं, मुझे किनारे करने का कोई सवाल ही नहीं उठता। पार्टी के स्थापना दिवस पर हमने पूरी तैयारी की है। कार्यक्रम में तेजस्वी यादव को कैसे सम्मान देना है, इसकी पूरी प्लानिंग हमने की है।

गौरतलब है कि 5 जुलाई को राजद का स्थापना दिवस है। इस अवसर पर पार्टी ने बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया है। कार्यक्रम में तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव, राबड़ी देवी समेत कई बड़े नेता और कार्यकर्ता शामिल होंगे।

भाजपा ने कहा- बुझने वाली है लालटेन 

राजद में मचे घमासान पर भाजपा का कहना है कि ये परिवार की राजनीति है। लालू यादव अब सक्रिय राजनीति से दूर होते जा रहे हैं। लालू यादव के विरासत को लेने के लिए दोनों भाइयों में होड़ मची है। तेजप्रताप को जो सम्मान पार्टी में मिलना चाहिए वो नहीं मिल रहा है। तेजप्रताप की पीड़ा सामने आ रही है। लालटेन की लौ अब बुझने वाली है।

जदयू ने कहा- तेज प्रताप को राजद से किया जा रहा किनारा

राजद के स्थापना दिवस के अवसर पर छपे आमंत्रण पत्र में तेज प्रताप का नाम नहीं होने पर जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि उनके साथ स्वाभाविक न्याय हुआ है। वे नीतीश चाचा नो एंट्री का पोस्टर चिपका रहे थे। राजद में ही अब उनकी नो एंट्री हो गई है। इस मामले पर हमें कुछ नहीं कहना है। परिवार की राजनीति है परिवार समझे।

Loading...

Check Also

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट...

रणजी मुकाबल: मणिपुर की पूरी टीम 185 रन पर आउट…

रणजी मुकाबले के तीसरे दिन मणिपुर ने 143 रन के बाद खेलना शुरू किया। लगातार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com