कितना कारगर होगा अभ्यास?

वो कहते हैं न कि लोहा ही लोहे को काटता है. वैसे ही कुलदीप की काट ढूढ़ने के लिए इंग्लैंड ने नेट पर उसी अंदाज के बॉलर को उतारा. बहरहाल, इंग्लैंड का ये पैंतरा अब कितना कामयाब होता है इसका पता तो टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन को देखने के बाद ही पता चलेगा. क्योंकि, एजबेस्टन में कुलदीप यादव खेलेंगे या नहीं ये फिलहाल तय नहीं है.