ED का बड़ा ऐलान अगर 3 दिन में पेश न हुआ नीरव मोदी तो शुरू होगी प्रत्यर्पण की कार्रवाई

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले मामले में आरोपी नीरव मोदी पर शिकंजा कसने की तैयारी तेज हो रही है. ईडी ने नीरव मोदी को तीसरा समन भेजा है और 26 फरवरी को पेश होने को कहा है. ईडी ने नीरव मोदी को सख्त हिदायत देते हुए कहा है कि अगर वह इस समन को सख्ती से नहीं लेते हैं, तो एजेंसियां प्रत्यर्पण की कार्रवाई तेज कर देंगी.

नीरव मोदी ने कई देशों में अपना पैसा ट्रांसफर किया है, जिसके मद्देनजर ईडी लेटर रोगट्री भी जारी कर सकता है. आपको बता दें कि ईडी की तरफ से ये नीरव मोदी को तीसरा समन है. इससे पहले जारी किए गए दो समन में नीरव मोदी ने पेश होने से इनकार कर दिया था.

ईडी की ओर से गुरुवार को जारी बयान में कहा गया कि नीरव मोदी को दो बार समन भेजा गया था, उम्मीद थी कि वह निदेशालय के अफसरों के समक्ष 22 फरवरी को पेश होगा, लेकिन वह नहीं आया. नीरव मोदी ने ईमेल कर ईडी के समक्ष प्रस्तुत होने से मना कर दिया. उसने ईमेल में लिखा है कि वह विदेश में है और अभी काफी व्यस्त है, लिहाजा वह ईडी के समन पर पेश नहीं हो पाएगा.

हीरा कारोबारी नीरव मोदी पर PNB को 11400 करोड़ से ज्यादा की चपत लगाने का आरोप है. कहा जा रहा है कि उसने लेटर ऑफ अंडरटेकिंग यानी साख पत्र की बिनाह पर बैंकों से ये रुपये कर्ज के तौर पर लिए और न लौटा पाने की स्थिति में देश छोड़कर भाग गया.

पीएनबी ने लिखा था खत

पंजाब नेशनल बैंक ने गुरुवार को नीरव मोदी को खत भी लिखा था. चिट्ठी में पीएनबी ने नीरव मोदी को कहा कि आपने गलत ढंग से बैंक अधिकारियों की मदद से सारे एलओयू हासिल किए. किसी भी तरह से हमारे बैंक द्वारा आपकी तीनों पार्टनर कंपनियों को कोई सहूलियत नहीं दी गई थी. जिस दौरान इन गतिविधियों का खुलासा हुआ, फिर जांच में खुलासा हुआ FEMA और मनी लॉन्ड्रिंग का मामला है.

पीएनबी ने साफ किया कि कानून के मुताबिक, बैंक के पास हक था कि वह इन गतिविधियों को रोके और ईडी ने जो भी कार्रवाई की हैं वो भी सही हैं. आपने पैसा लौटाने का जो भी वादा किया है उसमें किसी भी तरह से ये नहीं बताया है कि आप किस तरह ये पैसा लौटाएंगे. अगर आपके पास ऐसा कोई ठोस प्लान है तो हमें बताएं.

जब्त की गई गाड़ियां

गुरुवार को ईडी ने नीरव मोदी और उसकी कंपनी की 9 लग्जरी कारें जब्त कीं. इन कारों की कीमत कई करोड़ बताई जा रही है. इनमें सिर्फ एक कार रॉल्स रॉयल घोस्ट की कीमत ही 6 करोड़ है. इसके अलावा 2 मर्सिडीज बेंज GL 350, एक पॉर्शे पैनामेरा, तीन होंडा और एक टोयोटा फॉर्चूनर और एक टोयोटा इनोवा है. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ग्रुप के 94 करोड़ के शेयर भी जब्त कर लिए गए हैं.

You may also like

नवाज और मरियम शरीफ को कोर्ट से मिली बड़ी राहत, सजा पर लगाई रोक

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बड़ी राहत मिली