ईस्टर्न पेरीपेरल एक्सप्रेस-वे खुल जाएगा रविवार शाम से लोगों के लिए

- in दिल्ली, राज्य

सोनीपत। कुंडली-गाजियाबाद-पलवल (केजीपी) ईस्टर्न पेरीपेरल एक्सप्रेस-वे पर रविवार शाम पांच बजे से आम लोग आवागमन कर सकेंगे। दोपहर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश के खेकड़ा में विधिवत इसका उद्घाटन करेंगे। इससे पहले प्रधानमंत्री केजीपी पर सोनीपत के गांव पाबसरा के पास टोल प्लाजा के नीचे बने डिजिटल आर्ट गैलरी का उद्घाटन करेंगे।  प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर शनिवार को एसपीजी, पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने सुरक्षा तैयारियों का जायजा लिया और रिहर्सल भी की। केजीपी के सभी एंट्री प्वाइंट को सील कर दिया गया है।ईस्टर्न पेरीपेरल एक्सप्रेस-वे खुल जाएगा रविवार शाम से लोगों के लिए

उपायुक्त विनय सिंह ने बताया कि प्रधानमंत्री सुबह 11.25 बजे केजीपी पर सोनीपत जिले की सीमा में पाबसरा गांव के पास बनाए हेलीपैड पर पहुंचेंगे। वह यहां पर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) की डिजिटल आर्ट गैलरी का उद्घाटन करेंगे और केजीपी निर्माण में बेहतरीन कार्य करने वाले 62 लोगों के साथ समूह फोटो खिंचवाएंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री सड़क मार्ग से उत्तर प्रदेश के बागपत जिले की खेकड़ा तहसील पहुंचेंगे व वहां विधिवत तौर पर केजीपी का उद्घाटन करेंगे।

शनिवार सुबह राई रेस्ट हाउस में अधिकारियों ने कार्यक्रम को लेकर समीक्षा बैठक की। इसमें एडीजीपी मोहम्मद अकील, आइजी संजय सिंह, उपायुक्त विनय सिंह, डीआइजी एवं एसएसपी सोनीपत सतेंद्र गुप्ता, एसडीएम प्रशांत पंवार सहित सभी संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

शोध व इंजीनियरिंग के छात्रों को आर्ट गैलरी से मिलेगा लाभ

केजीपी देश का पहला एक्सिस कंट्रोल हाईवे है। इसके निर्माण में प्रयुक्त तकनीक, बाधाओं और अन्य कार्यों को भावी पीढ़ी व पर्यटकों को दिखाने के लिए एनएचएआइ ने गांव पाबसरा के पास बने टोल प्लाजा के नीचे एक डिजीटल आर्ट गैलरी का निर्माण किया है। यहां लगाए 18 डिस्प्ले में हाईवे के निर्माण से जुड़ी जानकारियां समायोजित की गई हैं। यह जानकारी जहां आम लोगों के लिए ज्ञानवर्धक होंगी, वहीं शोध व इंजीनियरिंग के छात्रों को निर्माण से जुड़ी बारीकियों की जानकारी देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सुप्रीम कोर्ट का अयोध्या मामले में इसी हफ्ते आ सकता है ये बड़ा फैसला

अयोध्या राम जन्मभूमि मामले से जुड़े एक अहम केस में