शराबियों को पकड़ने गए दारोगा खुद ही नशे में चूर मिले, फिर ऐसे हुई खातिरदारी

- in ज़रा-हटके

भारतीय संविधान के तहत पुलिस महकमें के कंधों पर समाज की सुरक्षा की अहम जिम्मेदारी होती है। वे सरकार द्वारा गठित कानूनों को अनुशासन में रहकर उन्हें क्रियान्वित कराते हैं। लेकिन तब क्या हो जब खुद पुलिस इन नियमों की अवहेलना करे..? कहते हैं समाज के लिए यह सबसे घातक स्थिति होती है। ऐसा ही एक मामला होली के दिन सामने आया है। आइए जानते हैं…  बिहार के पटना जिले के जानीपुर थाने में ड्यूटी पर तैनात दारोगा होली के मौके पर नजदीक सजे मयखाने में पहुंचे और शराब पीकर नशे में डांस करने लगे।

शराबियों को पकड़ने गए दारोगा खुद ही नशे में चूर मिले, फिर ऐसे हुई खातिरदारी
इस दौरान किसी ने चुपके से नशे में झूम रहे दारोगा की तस्वीर खींच ली और उसे एसएसपी के व्हाट्सएप पर भेज दिया। दारोगा को गिरफ्तार कर उसी जेल में डाल दिया गया है जिस थाने में वह तैनात था।एक रिपोर्ट की माने तो जानीपुर थाना के दारोगा मदन मोहन झा को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

इस देश में शवयात्रा में नाचती है पोल डांसर्स और कॉल गर्ल्स

मदन मोहन झा को होली के दौरान ठेकों और शराबियों पर नजर रखन के लिए ड्यूटी सौंपी गई थी, लेकिन गश्ती के दौरान उनकी नजर मयखाने पर पड़ी तो वो खुद को रोक नहीं सके और जमकर शराब पी और होली के गाने पर झूमकर डांस करने लगे।वहीं मौजूद किसी व्यक्ति ने ऐसी हालत में दारोगा की तस्वीर एसएसपी को भेज दी। फिर क्या था उनके डांस का मजा किरकिरा हो गया और नशे में झूम रहे दारोगा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और जेल भेज दिया। 

You may also like

बच्चे को खाने में दिया सलाद तो बुला ली पुलिस, उसके बाद…

अक्सर ऐसा होता है कि बच्चों को खाने