इस एप को डाउनलोड करने से आपको घर बैठे मिलेगी केदारनाथ की पूरी जानकारी

- in गैजेट

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ धाम से जुड़ी विभिन्न जानकारियां अब मोबाइल एप के जरिये गढ़वाली-कुमाऊंनी समेत देश की विभिन्न भाषाओं में मिल सकेंगी। इस एप को ‘केदारगाथा’ नाम दिया गया है, जिसकी शुरुआत रविवार को डीएम रुद्रप्रयाग ने की। इसके अलावा शिप बेस्ड एनाउंसमेंट सिस्टम भी लॉन्च कर दिया गया है। इसके माध्यम से यात्रा मार्ग पर केदारनाथ की महिमा समेत अन्य जानकारियां विभिन्न भाषाओं में दी जाएंगी।इस एप को डाउनलोड करने से आपको घर बैठे मिलेगी केदारनाथ की पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा के अनुरूप जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने जिला आपदा कंट्रोल रूम में केदारगाथा मोबाइल एप और शिप बेस्ड एनाउसमेंट सिस्टम की विधिवत शुरुआत की। जिलाधिकारी ने बताया कि इसमें हर प्रकार की जानकारी का समावेश किया गया है। गूगल प्ले स्टोर से मोबाइल एप डाउनलोड कर कोई भी यात्री केदारनाथ धाम समेत उत्तराखंड के विभिन्न धार्मिक स्थलों की जानकारी अपनी भाषा में हासिल कर सकता है।

बताया कि एप में गढ़वाली, कुमाऊंनी, हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, नेपाली, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, राजस्थानी सहित कुल 17 भाषाओं में रुद्रप्रयाग से लेकर केदारनाथ धाम तक का पौराणिक एवं धार्मिक इतिहास और भौगोलिक परिवेश से संबंधित जानकारियां दी गई हैं। यात्री के रुद्रप्रयाग की सीमा में प्रवेश करते ही यह एप सक्रिय हो जाएगा। जीपीएस से कनेक्ट होने के कारण भाषा के चयन के लिए मैनुअल अथवा ऑटोमेटिक ऑप्शन का उपयोग किया जा सकता है।

जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि शिप बेस्डएनाउसमेंट सिस्टम के जरिये रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय स्थित कंट्रोल रूम से केदारनाथ धाम समेत विभिन्न पड़ावों पर लाइव नजर रखी जा सकती है। इसके लिए प्रत्येक स्थान पर सीसीटीवी कैमरे और लाउड स्पीकर लगाए गए हैं। उन्होंने सभी यात्रियों से इस एप का लाभ उठाने की अपील की है। साथ ही जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि इसके इस्तेमाल से यात्रियों को यात्र के दौरान बेहतर सुविधा मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

10,000 रुपये से भी कम कीमत में इस भारतीय कंपनी ने लॉन्च किया अपना लैपटॉप

नई दिल्ली। भारतीय निर्माता कंपनी RDP ने अपना सबसे