डोनाल्ड ट्रंप के स्टाफ को नहीं आती अंग्रेजी, लेटर में टीचर ने निकाली अनेकों गलतियां

वॉशिंगटन: एक अमेरिकी महिला ने व्हाइट हाउस की ओर से लिखे गए पत्र में कई गलतियां निकालीं. इतना ही नहीं उसने उस पत्र को वापस व्हाइट हाउस भेज दिया. क्योंकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हस्ताक्षर वाले इस पत्र में व्याकरण से जुड़ी कई गलतियां थीं, जिससे महिला इस कदर नाराज हुई कि उसने उसी पत्र को सुधार के साथ उसी पते पर भेज दिया, जहां से वह आया था.डोनाल्ड ट्रंप के स्टाफ को नहीं आती अंग्रेजी, लेटर में टीचर ने निकाली अनेकों गलतियां

दरअसल, अमेरिका के अटलांटा में रहने वाली यवोन मेसन को व्हाइट हाउस की तरफ से एक पत्र लिखा था. जब मेसन ने पढ़ने के लिए उस पत्र को खोला, तो उसमें व्याकरण से संबंधित कई गलतियां थी. इसके बाद मेसन पत्र की तमाम अशुद्धियों को सही किया और फिर उसे वापस व्हाइट हाउस भेज को दिया. यवोन मेसन ने दक्षिण कैरोलिना के एक हाईस्कूल में बतौर अंग्रेजी टीचर 17 साल काम किया है, हालांकि अब वो रिटायर हो चुकी हैं.

न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक मेसन ने कहा, “इस पत्र को यदि किसी मिडिल स्कूल में लिखा गया होता तो वो मैं इसे सी या सी प्लस नंबर देती. वहीं अगर ये पत्र हाईस्कूल में लिखा गया होता तो मैं इसे डी ग्रेड देती.”

यवोन ने ग्रीनविले न्यूज से बातचीत में कहा, “सरकार के ऊंचे ओहदे की ओर से मिले पत्र में किसी गलती की उम्मीद नहीं होती. पत्र में किसी भी तरह की अशुद्धि की गुंजाइश नहीं करते.” हालांकि यवोन मेसन ने बताया कि इस पत्र व्हाइट हाउस के किसी कर्मचारी ने लिखा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भारत ने रोहिंग्याओं के लिए बांग्लादेश को राहत सामग्री प्रदान की

भारत ने हिंसा के कारण म्यामांर छोड़कर बांग्लादेश में शरणार्थी