नाभा जेल ब्रेक का मुख्य आरोपी हांगकांग में हुआ गिरफ्तार

- in पंजाब

नाभा जेल ब्रेक के सरगना और सूबे में हत्या के विभिन्न मामलों में वांछित रमनदीप सिंह रोमी को हांगकांग पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अब पंजाब पुलिस रोमी को भारत लाने के लिए हांगकांग सरकार के साथ बातचीत के प्रयास शुरू कर दिए हैं।

नाभा जेल ब्रेक का मुख्य आरोपी हांगकांग में हुआ गिरफ्तारराज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि इस संबंध में हांगकांग सरकार से कई कूटनीतिक तरीकों से संपर्क किया जा रहा है ताकि सूबे में विक्की गोंडर जैसे मुलजिमों की मदद करने और आईएसआई के संरक्षण में पनपते पाकिस्तानी आतंकवादियों को सहयोग देने वाले अपराधी रोमी को जल्द से जल्द हांगकांग सरकार पंजाब पुलिस के हवाले कर दे।

प्रवक्ता ने बताया कि रोमी के लिए रेड कार्नर नोटिस भी जारी किया हुआ है और उसे हाल ही में हांगकांग में गिरफ्तार किया गया है, जहां वह भारत में चोई हंग एस्टेट, कोलून से संबंधित लूट के मामले में फरार होने के बाद एक शरणार्थी के रूप में रह रहा था।

गिरफ्तार अपराधियों की तफ्तीश से यह स्पष्ट हुआ है कि रोमी सूबे में हत्याओं के अलावा नशा और हथियारों की तस्करी में भी शामिल रहा है। प्रवक्ता ने बताया कि आईएसआई की शह पर पल रहे पाकिस्तानी आतंकवादी संगठनों और पंजाब के गैंगस्टरों के बीच रमनदीप सिंह रोमी एक सूत्रधार के रूप में काम कर रहा है और प्रत्येक गतिविधि की जानकारी का आदान-प्रदान व्हाट्सअप और सोशल मीडिया के जरिए देता रहा है।

2016 में बेल जंप कर भाग गया था हांगकांग
रोमी नाभा जेल में जून 2016 में गया था और एक महीने बाद ही जमानत लेकर हांगकांग फरार होने में कामयाब हो गया। वहीं से उसने नाभा जेल में बंद गुरप्रीत सिंह सेखों की मदद से यह जेल ब्रेक करने की घटना को अंजाम दिया। रोमी ने पैसे भेजने के अलावा जेल से भागे अपराधियों को सुरक्षित पनाह भी मुहैया कराई और हांगकांग में संपर्क करने के लिए अपना नंबर भी दिया।

आतंकी गुट का पर्दाफाश होने पर रोमी का नाम आया सामने
प्रवक्ता ने बताया कि हाल ही में राज्य में सात हत्याओं में वांछित आतंकवादी गुट का पर्दाफाश होने के बाद रोमी का नाम सामने आया। रोमी ने जग्गी जोहल को बताया था कि नाभा जेल में बंद गैंगस्टर धरमिदंर सिंह उर्फ गुगनी ने रमनदीप से राठौर के लिए हथियारों का प्रबंध कर लिया है।

रोमी इंग्लैंड में बसे जगतार सिंह जोहल उर्फ जग्गी के संपर्क में था, जिस पर पंजाब आरएसएस के उपाध्यक्ष जगदीश गगनेजा सहित अन्य हिंदू नेताओं व शिवसैनिक नेताओं की हत्या का आरोप है। रोमी और जग्गी जोहल पाकिस्तान में रह रहे केएलएफ के आतंकी हरमीत सिंह पीएचडी के भी संपर्क में था और मई से जुलाई 2017 के दौरान तीन बार एक दूसरे से बातचीत कर चुके थे।

You may also like

कांग्रेस कार्यकर्ता के साथ मारपीट करने पर अकाली दल प्रमुख के खिलाफ FIR हुई दर्ज

मुख़्तसर: जिला परिषद और पंचायत समिति चुनावों के दौरान