जलेबी की तरह बात न घुमाएं भट्ट, सीधे कहें उनकी सरकार हुर्इ है फेल

गरमपानी, नैनीताल: पूर्व सीएम हरीश रावत ने एकबार फिर से केंद्र और राज्य सरकार को आड़े हाथ लिया है। उनका कहना है कि अजय भट्ट साफ तौर पर कहें कि उनकी सरकार राज्य के विकास में पूरी तरह से फेल रही है। साथ ही उन्होंने दावा किया कि निकाय चुनाव और लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी ही जीत दर्ज करेगी। जलेबी की तरह बात न घुमाएं भट्ट, सीधे कहें उनकी सरकार हुर्इ है फेल

दरअसल, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत यहां कैंची धाम में बाबा दर्शनों को पहुंचे थे। उन्होंने धाम पहुंतकर पूजा-अर्चना की और बाबा नीम करौली महाराज की प्रतिमा के आगे शीश झुकाकर मन्नत मांगकर कंबल भी चढ़ाया।  उन्होंने मंदिर ट्रस्ट प्रबंधक विनोद जोशी से भेंट की। पूर्व मुख्यमंत्री ने श्रद्धालुओं के साथ कतारबद्ध होकर चने का प्रसाद ग्रहण किया। इस दौरान महिला प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सरिता आर्या, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री खष्टी बिष्ट, भुवन तिवारी, गिरधर बम, पवन आर्या, हरीश आर्या ,कमान धामी, शांति तिवारी,पुष्पा नेगी, शशि वर्मा आदि मौजूद रहे।

सेल्फी केे लिए लगी होड़ 

पूर्व सीएम हरीश रावत का काफिला जैसे ही मंदिर के मुख्य द्वार के पास पहुंचा। प्रशंसक ही नहीं बच्चे भी उनके करीब आ गए। इस दौरान उन्होने पूर्व सीएम के साथ सेल्फी भी ली। साथ ही बच्चों ने ऑटोग्राफ भी मांगे। 

अजय भट्ट सीधे कहें कि उनकी सरकार फेल है 

बाबा नीम करौली महाराज के दर्शन करने के बाद पूर्व सीएम पत्रकारों से रूबरू हुए। इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट के विपक्षी पार्टियों को सांप-नेवले और गैरसैंण सत्र से पुलिसकर्मियों के बिना मुहं धोए वापस आने संबंधी सवाल पर पूर्व सीएम ने कहा कि अजय भट्ट को जलेबी बयानबाजी के बजाय स्पष्ट बात करनी चाहिए। उन्होंने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हीं की सरकार ने काठगोदाम से खैरना तक एनएच को बाबा नीम करौली महाराज के नाम और खैरना से अल्मोड़ा तक स्वामी विवेकानंद के नाम पर रखने का प्रस्ताव केंद्र को भेजा था। मगर केंद्र ने उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया। 

इससे पहले पूर्व सीएम ईद मिलन समेत अन्य कार्यक्रमों में भाग लेने अल्मोड़ा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि केदारनाथ में बेतरतीब निर्माण पूरा किया गया। इसमें पुरातत्व विभाग के विशेषज्ञों की राय नहीं ली गयी। रावत ने बीते पांच सालों में केदारनाथ आपदा के बाद हुए निर्माण कार्य पर असंतोष जाहिर किया। उनका कहना था कि मोदी सरकार ने यहां बेतरतीब निर्माण कार्य पूरा किया। मंदिर की जगह को सपाट करने की जगह ढलान में बना दिया। इस मौके पर उन्होंने आपदा में मारे गए श्रद्धालुओं के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर पहुंचे सीएम योगी, 87 करोड़ लागत की योजनाओं का किया लोकार्पण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को