कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने कहा-‘भाजपा की बी-टीम है AAP, ‘माफीमैन’ होना चाहिए केजरीवाल का नाम’

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के माफीनामे पर सियासत तेज होती जा रही है। कांग्रेस ने माफीनामे पर सवाल उठाते हुए मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग की है। इसे लेकर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री आवास के नजदीक प्रदर्शन किया।

जोरदार नारेबाजी की

प्रदर्शनकारी ‘आरोपों से मुंह न मोड़ो माफी नहीं गद्दी छोड़ो, झूठे आरोपों से सत्ता जोड़ी-माफी मांगी पर गद्दी न छोड़ी’ जैसे नारे लगाते हुए चंदगीराम अखाड़े से मुख्यमंत्री आवास की ओर बढ़ रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें कुछ दूर पहले ही रोक दिया। वहां उन्होंने जोरदार नारेबाजी की।

‘माफीमैन’ होना चाहिए नाम

माकन ने कहा कि मुख्यमंत्री का नाम अरविंद केजरीवाल न होकर ‘माफीमैन’ होना चाहिए। दिल्ली की जनता को गुमराह करने के लिए उन्हें लोगों से माफी मागनी चाहिए और नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ देनी चाहिए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि अब स्पष्ट हो गया है कि आम आदमी पार्टी (आप) भाजपा की बी-टीम है। दिल्ली के भाजपा विधायक ने पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रमजीत सिंह मजीठिया से उनका समझौता कराया है। अब केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली मानहानि केस में समझौता कराने की कोशिश हो रही है। यह जिम्मेदारी ‘आप’ के राज्यसभा सदस्य एनडी गुप्ता को दी गई है।

जनता समझ गई है

माकन ने कहा कि केजरीवाल दिल्ली की भोली-भाली जनता को बेवकूफ बनाकर वोट लेकर सत्ता हथिया लेते हैं और उसके बाद अपनी ही कही गई बातों से मुकरकर माफी मांग लेते हैं। जनता अब उनके दोहरे चरित्र को समझ गई है।

मुख्यमंत्री बात-बात पर कहते हैं कि भाजपा की सरकार उनको काम नहीं करने देती है। वहीं, जब समझौता करके माफी मांगने की बात होती है तो वे भाजपा नेताओं का सहयोग लेते हैं। इसलिए उनके दोहरे चरित्र तथा भाजपा के साथ उनके संबंधों की पोल खोलने के लिए कांग्रेस सड़कों पर उतर कर जिला व ब्लॉक स्तर पर आंदोलन करेगी।

You may also like

उत्तराखंड: जल्द निकाय चुनाव के लिए सरकार पर दबाव बना रही कांग्रेस

देहरादून: विधानसभा का मानसून सत्र निपटने के बाद