कंप्यूटर बाबा से कांग्रेसी नेताओं ने जेल में की मुलाकात पूछा हालचाल

नई दिल्ली। इंदौर जिला प्रशासन की अवैध निर्माण पर कार्रवाई जारी है। इसी बीच कथित तौर पर अवैध निर्माण गिराने में अवरोध डालने के आरोप में गिरफ्तार किए गए कंप्यूटर बाबा से कांग्रेस नेताओं ने सोमवार को मुलाकात की और उनका हालचाल जाना। हालांकि, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह अपनी व्यस्तताओं के कारण उनसे मिलने नहीं पहुंच सके। उन्होंने कंप्यूटर बाबा की गिरफ्तारी को राजनीतिक बदले से की गई कार्रवाई बताया है। ध्यान रहे कि शिवराज सिंह सरकार में राज्यमंत्री रहे कंप्यूटर बाबा ने विधानसभा चुनाव के पूर्व कांग्रेस का हाथ थाम लिया था और उसके पक्ष मेंं जमकर प्रचार भी किया था।

Ujjawal Prabhat Android App Download

कौन हैं कंप्यूटर बाबा

लोगों के लिए कौतूहलपूर्ण नाम के स्वामी कंप्यूटर बाबा हिंदू संत हैं। उनका असली नाम नामदेव दास त्यागी है, लेकिन अपनी तीक्ष्ण बुद्धि और आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के प्रति विशेष रुचि के कारण वे अपने भक्तों के बीच ‘कंप्यूटर बाबा’ के नाम से विख्यात हैं। दिगंबर अखाड़े के संत कंप्यूटर बाबा अपनी अध्यात्मिक यात्रा के साथ-साथ राजनीतिक संबंधों के कारण भी चर्चा के केंद्र में रहते हैं। पर्यावरण के प्रति अपना विशेष अनुराग रखने के कारण भी वे लोगों के बीच बहुत सम्मान की दृष्टि से देखे जाते हैं।

वर्तमान में वे ‘मां नर्मदा, मां क्षिप्रा, मां मंदाकिनी ट्रस्ट’ के चेयरमैन हैं। 2018 में वे शिवराज सिंह चौहान सरकार के मंत्रिमंडल में राज्य मंत्री भी रह चुके हैं। हालांकि, मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के पूर्व उन्होंने शिवराज सिंह सरकार का दामन छोड़ कांग्रेस का हाथ थाम लिया था। उन्होंने चुनाव में कांग्रेस के पक्ष में जमकर प्रचार भी किया था।

चर्चा में क्यों आए

वर्तमान में मध्यप्रदेश की दो दर्जन से ज्यादा सीटों पर उपचुनावों के कारण राज्य का सियासी माहौल गर्म है। इसी बीच, इंदौर जिला प्रशासन नेे आरोप लगाया है कि कंप्यूटर बाबा ने गोशाला की जमीन का अतिक्रमण कर अवैध निर्माण किया और गोशाला की 46 एकड़ भूमि पर अवैध कब्जा भी कर लिया। इसी आरोप पर कार्रवाई करते हुए इंदौर विकास प्राधिकरण ने रविवार को कंप्यूटर बाबा द्वारा निर्मित अवैध निर्माण ढहा दिया। कथित तौर पर इस प्रकार लगभग पांच करोड़ रुपये मूल्य की 20 हजार वर्ग फीट जमीन मुक्त कराई गई है। जिला प्रशासन की यह कार्रवाई सोमवार को भी जारी है।

कंप्यूटर बाबा को भेजा जेल

अवैध निर्माण गिराते समय विरोध करने के आरोप में इंदौर जिला प्रशासन ने कंप्यूटर बाबा पर कार्रवाई करते हुए उन्हें आईपीसी की धारा 151 के अंतर्गत गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है। उनकी गिरफ्तारी के बाद सियासी माहौल काफी गर्म हो चुका है और मध्यप्रदेश के कई शीर्ष कांग्रेस नेता उनसे मिलने पहुंचे हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कंप्यूटर बाबा पर की गई कार्रवाई को बदले की भावना से की गई कार्रवाई बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button