दलितों में लोकप्रियता को भुनाएगी पार्टी

राज्य में अनुसूचित जाति की आबादी 17 प्रतिशत है. वहीं इस जाति के लिए सुरक्षित विधानसभा सीटों की संख्या 34 है. पिछले चुनाव में इनमें से महज 2 सीटों पर ही कांग्रेस को जीत मिली थी. लेकिन दलित आबादी के बीच पार्टी की लोकप्रियता और वसुंधरा राजे सरकार के खिलाफ गुस्से को देखते हुए, कांग्रेस को इस बार इन सभी सीटों पर जीत का भरोसा है. पार्टी की प्रदेश इकाई के एक वरिष्ठ नेता ने इकोनॉमिक टाइम्स को बताया, ‘राजस्थान की स्थिति दूसरे राज्यों से अलग है. यहां पार्टी का मजबूत आधार है. हमलोगों ने दलितों के बीच काफी काम किया है. ऐसे में किसी दूसरी पार्टी के साथ गठजोड़ करके हम अपने मजबूत जनाधार को गंवा नहीं सकते हैं. गठबंधन से हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं का मनोबल भी गिरेगा.’